संभागीय कार्यशाला में बोले प्रशिक्षक…हमें शिक्षा के साथ,,सुरक्षा की भी चिंता…क्या करें..जब बच्चा हो जाए सर्प दंश का शिकार

BHASKAR MISHRA

बिलासपुर–मुख्यमंत्री शाला सुरक्षा कार्यक्रम अभियान के तहत स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा के लिए शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया गया। संभाग स्तरीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन शासकीय मल्टीपरपज विद्यालय में किया गया। कार्यशाला में दूर दूर से पहुंचे शिक्षकों को संयुक्त संचालक आरपी आदित्य ने किया। आदित्य ने कहा कि सभी शिक्षकों को प्रशिक्षण कार्यक्रम को गंभीरता से लेना होगा। क्योंकि यह कार्यक्रम मुख्य रूप से बच्चों के पठन पाठन से ही नहीं बल्कि उनकी सुरक्षा से भी जुड़ा है।

जिला परियोजना  कार्यालय समग्र शिक्षा के माध्यम से संभाग स्तरीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन स्वामी आत्मानंद शासकीय बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में किया गया। कार्यशाला में सभी शिक्षकों को संयुक्त संचालक आर.पी.आदित्य ने संबोधित किया। आदित्य ने कहा शिक्षकों को प्रशिक्षण कार्यक्रम को गंभीरता से लेने की जरूरत है।

कार्यशाला में दूर दूर से पहुंचे सभी शिक्षक जिले के अन्य शिक्षकों को प्रशिक्षण के बारे में बताए। उन्होंने बतयाा कि “शिक्षक के रूप में हमें अपने विद्यालय में किस तरह सुरक्षा संबंधी सावधानियां रखनी चाहिए है। इसे जानना बहत ही जरूरी है। क्योंकि मामला बच्चों की शिक्षा से ही नहीं बल्कि सुरक्षा से भी जुड़ा है। कई बार बहुत सी छोटी छोटी असावधानी बच्चों की सुरक्षा खतरे में डाल देती है। प्रशिक्षण का उद्देश्य शिक्षकों बच्चों की सुरक्षा के लिए विभिन्न उपायों को बताना है।

         यूआरसीसी बिलासपुर वासुदेव पाण्डेय ने प्रशिक्षण के उद्देश्य और आवश्यकता पर प्रकाश डाला। डीएमसी समग्र शिक्षा बिलासपुर अनुपमा राजवाड़े ने कहा कि “हम बेहतर माहौल में गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण प्रदान करने का प्रयास कर रहे हैं। यहां से निकलने के बाद सभी शिक्षक अपने जिलों में शिक्षकों को प्रशिक्षण देंगे।

         कार्यशाला में यूनिसेफ रायपुर के प्रशिक्षक डॉ. श्रवण कुमार सिंह और राहुल विश्वकर्मा ने भी शिरकत किया। डॉक्टर श्रवण कुमार सिंह ने विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से सर्प काटने पर प्राथमिक उपचार के बारे में बताया। उन्होने बताया कि यदि कोई बच्चा बेहोश हो जाए तो..तो क्या करना चाहिए। दि किसी बच्चे को रक्तश्राव हो रहा हो तो..मुंह से सांस कैसे दिया जाए..विस्तार के साथ जानकारियों को साझा किया।

      कार्यशाला में एपीसी अमित श्रीवास्तव, प्राचार्या चंदना पॉल,विवेक दुबे,प्रदीप पाण्डेय,सीएसी सुनील पाण्डेय,मनोज ठाकुर,गौकरण, उपाध्याय, शेषमन कुशवाहा,सुष्मिता शर्मा,आकाश वर्मा,संदीप दुबे जिला कार्यालय से अर्पणा दुबे,अनीता राज और विभिन्न जिलों से आए शिक्षक  उपस्थित थे।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close