जब केन्द्रीय सचिव पहुंच गए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र…निरीक्षण कर कहा…और मरीजों के लिए कर दिया..ताबड़तोड़ यह फैसला

BHASKAR MISHRA

बिलासपुर—-केन्द्रीय संयुक्त सचिव डॉ मनश्वी कुमार ने जिला अस्पताल और अर्बन पीएचसी का औचक निरीक्षण किया। मरीजों से मुलाकात कर इलाज और सुविधाओं की जानकारी हासिल किया। निरीक्षण के दौरान केन्द्रीय संयुक्त सचिव ने प्रबंधन को जरूरी दिशा निर्देश भी किया। इसी क्रम में मनश्वुी कुमार ने राजकिशोर स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में धावा बोला।

 भारत सरकार स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग संयुक्त सचिव डॉ. मनश्वी कुमार शनिवार को एक दिवसीय प्रवास पर बिलासपुर पहुंचे। मनश्वी कुमा रने जिला अस्पताल और राजकिशोर नगर स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का औचक निरीक्षण किया।  सभी वार्डो का दौरा कर अस्पताल की विभिन्न व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संचालक डॉ जगदीश सोनकर, कलेक्टर अवनीश शरण, जिला पंचायत सीईओ अजय अग्रवाल, एसडीएम सूरज साहू ,मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ राजेश शुक्ला और संबंधित अधिकारी -कर्मचारी इस दौरान विशेष रूप से मौजूद थे।

     संयुक्त सचिव ने जिला अस्पताल में मरीजों के लिए पंजीयन कक्ष का जायजा लिया । गांधी चौक से इलाज कराने आए एक मरीज से पंजीयन के लिए आभा एप्प के बारे में जानकारी लेने के डॉक्टरों से कहा कि मरीजों के साथ सहानुभूतिपूर्वक व्यवहार किया जाए। अस्पताल में मरीज परेशान हालात में आतें है।  मरीजों के अस्पताल में आने से लेकर जाने तक की पूरी प्रक्रिया को लेकर केन्द्रीय सचिव ने खास टिप्स दिए।  साथ ही वर्तमान प्रक्रिया को समझने का प्रयास भी किया।

 सचिव ने चिकित्सकों से दो टूक कहा कि अस्पताल में नियमित साफ- सफाई से किसी प्रकार का समझौता नहीं होना चाहिए। सचिव ने डायलिसिस कक्ष, आयुष्मान कार्ड पंजीयन केन्द, 100 बिस्तर मातृ शिशु अस्पताल का भी जायजा लिया। दवा वितरण केंद्र पर पहुंचकर दवा वितरण की प्रक्रिया को देखा और समझा। वितरण पंजी को देखने के अलावा फार्मासिस्ट से गहन पूछताछ कर दवाईयों के बारे में जानकारी प्राप्त ली।

 जिला अस्पताल भ्रमण के बाद संयुक्त सचिव डॉ. मनश्वी कुमार ने राजकिशोर नगर स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण किया। उन्होंने ओपीडी काउंटर पर काउंटर प्रभारी से जानकारी ली। पैथोलॉजी सेंटर का भी निरीक्षण किया । प्रसव वार्ड एवं प्रसव कक्ष का निरीक्षण किया। इसके अलावा इंजेक्शन, ड्रेसिंग कक्ष, औषधि कक्ष, ओ. पी. डी. महिला कक्ष, नर्सेस ड्यूटी कक्ष, ओ.पी.डी. पुरुष कक्ष, पुरुष वार्ड, नेत्र जाँच कक्ष, वैक्सीन भंडार कक्ष, टीकाकरण, परामर्श कक्ष, सहित पूरे परिसर का निरीक्षण कर जरूरी दिशा निर्देश भी दिए।

केन्द्रीय संचिव ने इस दौरान खासकर मरीजों के लिए वेटिंग रूम में स्वास्थ्य एवं पोषण से संबंधित जानकारी देने के लिए एलईडी टीवी लगाने को  कहा।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close