दलधोवा घाट में स्कार्पियो मालिक की हत्या-लूट मामले दो किशाेर समेत तीन गिरफ्तार,मुख्य आरोपी फरार,SP ने किया खुलासा

रामानुजगंज(पृथ्वीलाल केशरी)।जिला मुख्यालय से लगें रामानुजगंज अम्बिकापुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर दलधोवा घाट के नजदीक मालिक की हत्या कर स्कार्पियो लूट के मामले में पुलिस को सफलता मिल गई हैं। रामानुजगंज के स्कार्पियो मालिक की करीब तीन हफ्ते पहले हत्या कर उसकी गाड़ी लूटने के मामले में शामिल दो किशोर सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना का मास्टर माइंड अभी फरार है। वारदात के बाद बदमाश गाड़ी के साथ मृतक का मोबाइल भी साथ ले गए थे,जिसके सहारे पुलिस उन तक पहुंची। सभी आरोपी झारखंड के हैं।वारदात के दिन चारों आरोपियों ने उक्त स्कार्पियो रामानुजगंज से अंबिकापुर के लिए बुक की थी। शाम काे वहां से लौटते वक्त पाढ़ी व सेमरसोत जंगल के बीच अारोपियाें ने गाड़ी चला रहे युवक पर पीछे से चाकू से ताबड़तोड़ वार कर उसकी हत्या कर दी थी। इसके बाद शव को दलधोवा नाला के पास फेंक झारखंड भाग निकले थे। पुलिस ने लूटी गई स्कार्पियो भी बरामद कर ली है। उक्त मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक टी.आर.कोशिमा ने बताया कि रामानुजगंज निवासी कपिल चौधरी का चाकू से गोदा हुआ शव 19 अगस्त की सुबह दलधोवा नाला के पास मिला था।

उसकी स्कार्पियो क्रमांक सीजी 15 सीएच 0001 गायब थी। जांच में पता चला कि 18 अगस्त की दोपहर चार अज्ञात लाेग उसकी गाड़ी को रामानुजगंज से अंबिकापुर के नाम बुक कर ले गए थे। इसके बाद से वह लापता था।घटना स्थल पर उसका शव अर्द्धनग्न हालत में मिला था। उसका मोबाइल भी गायब था। कोशिमा ने बताया कि वारदात का मास्टर माइंड तजमुल अंसारी रामानुजगंज से अंबिकापुर गाड़ी बुक कर निकला तो वह रास्ते भर अंबिकापुर में एक फर्नीचर दुकान में काम करने वाले रिश्तेदार के संपर्क में रहा। अंबिकापुर आने के बाद चारों गाड़ी से उसके पास पहुंचे और घंटे भर उससे वारदात के बारे में बातचीत की।

अंबिकापुर से सभी शाम करीब साढ़े पांच बजे रवाना हुए। श्री कोशिमा ने बताया कि शव को गाड़ी में लेकर सभी दलधोवा नाला के पास पहुंचे। इस दौरान अंधेरा हाे चुका था। कपिल के शव को फेंकने से पहले आरोपियों ने उसके कपड़े पहचान छिपाने के लिए उतार दिए। गाड़ी की सीट में लगे खून के निशान भी पोंछ दिए। शव को फेंकने से पहले आरोपी सोनू भुइयां ने मृतक के मोबाइल को उठा लिया। घटना के पांच-छह दिन बाद उसने जैसे ही उक्त मोबाइल को चालू किया वह पुलिस के राडार में आ गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *