कांग्रेस नेताओं की गिरफ्तारी…देर शाम रिहाई

बिलासपुर— सीएम के कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे नगर निगम नेता प्रतिपक्ष और आधा दर्जन कांग्रेसी पार्षदों समेत 50 से अधिक कांग्रेसियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने कार्यक्रम स्थल पहुंचने से पहले ही विरोध की आशंका को देखते हुए छत्तीसगढ़ भवन के पास सभी कांग्रेसियों को गिरफ्तार किया। सभी नेताओं को मुख्यमंत्री के नगर प्रवास से लौटने के बाद छोड़ा गया।

                      नेता प्रतिपक्ष, आधा दर्जन महिला पुरुष कांग्रेसी पार्षदों समेत 50 से अधिक लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया। सभी कांग्रेसियों को मुख्यमंत्री के कार्यक्रम होने तक सिरगिट्टी थाना में रखा गया। कांग्रेस नेता जब कांग्रेस भवन से आडोटोरियम के लोकार्पण समारोह में शामिल होने जा रहे थे। उसी दौरान उन्हेें छत्तीसगढ़ भवन के सामने पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

                         पुलिस कार्रवाई का कांग्रेसियों ने विरोध किया। नेता प्रतिपक्ष शेखनजरूद्दीन ने कहा कि आमंत्रण होने के बावजूद उन्हें रोका गया है। सीधे तौर पर हमारे अधिकारों का हनन किया गया है। दरअसल भाजपा ने निमंत्रण देकर गिरफ्तारी की साजिश की है। इस दौरान पुलिस और कांग्रेसियों के बीच जमकर झुमाझटकी हुई।कांग्रेसियों ने सरकार और मुख्यमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

कांग्रेसी कर रहे थे विरोध

                      नगर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कांग्रेस कार्यक्रम विरोध करने रैली की शक्ल में नारे लगाते हुए जा रहे थे। हिरासत में लेकर सिरगिट्टी थाने में रखा गया है। शाम तक सभी को छोड़ दिया गया। कार्यक्रम में किसी प्रकार की बाधा ना पहुंचे। इस बात को ध्यान में रखकर कुछ लोगों की सांकेतिक गिरफ्तारी की गयी है।

महापौर को देंगे जवाब

 निगम नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन ने कहा कि महापौर पहले निमंत्रण देते हैं। बुलाकर अपमानित करते हैं। किसी भी कांग्रेसी पार्षद को कार्यक्रम में शामिल होने नहीं दिया गया। जब ऐसा ही करना था तो निमत्रण पत्र क्यों दिया गया। हम लोग जनप्रतिनिधि हैं। कार्यक्रम में शामिल होना हमारा अधिकार है। भाजपा नेताओं की तानाशाही अब बहुत दिनों तक नहीं चलने वाली है।

                                 नजरूद्दीन ने बताया कि 22 तारीख को निगम के सभी कांग्रेसी पार्षद महापौर से मिलकर मुंहपर निमंत्रण कार्ड फेंकने का निर्णय लिया है। कांग्रेसी पार्षदों का बुलाकर अपमान किया गया है। इस बात को आम जनता तक पहुंचाएंगे।

यूथ नेता की गिरफ्तारी

                  काला झंडा दिखाने के आरोप में यूथ कांग्रेस नेता अमित तिवारी को तारबाहर पुलिस ने हिरासत में लिया है। कांग्रेसियों ने इसका जमकर विरोध किया। दर्जनों की संख्या में कांग्रेस नेताओं ने तारबाहर थाने का घेराव किया। सभी हिरासत में लेकर मुख्यमंत्री के सभी कार्यक्रम खत्म होने के बाद छोड़ा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *