मेरा बिलासपुर

किसान न्याय यात्रा से बनाएंगे दबाव–राजेन्द्र

IMG-20151027-WA0004बिलासपुर— जिला कांग्रेस अध्यक्ष ग्रामीण राजेंद्र शुक्ला की अगुवाई में किसान अधिकार न्याय पदयात्रा चौथे चरण का आगाज 15 नवंबर को सुबह  11 बजे मरवाही ब्लाक के सूखाग्रस्त क्षेत्र बरौर से होगा। तीन चरणों की सफलता से उत्साहित कांग्रेसियों में इस यात्रा को लेकर जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है। चौथे चरण की पदयात्रा को लेकर राजेन्द्र शुक्ला काफी उत्साहित हैं। उन्होंने बताया कि मरवाही क्षेत्र बिलासपुर का सबसे सुखा ग्रस्त क्षेत्र है। यहां गरीबों और किसानों की हालत बहुत खराब है। बावजूद इसके प्रशासन केन्द्र की उम्मीद में हाथ पर हाथ रखकर बैठा है।

                              राजेन्द्र शुक्ला ने बताया कि पिछले तीन चरणों में किसान न्याय पदयात्रा को किसानों से भरपूर समर्थन मिला है। किसान और गरीब दाने दाने को मोहताज हैं। उन्होने बताया कि किसान यात्रा के सिपाहियों को किसानों ने हाथों हाथ लिया है। राजेन्द्र ने बताया कि मरवाही क्षेत्र पिछले पचास सालों में सबसे बड़े त्रासदी के दौर से गुजर रहा है। केन्द्रीय टीम के अनुसार इतने भीषण आकाल कभी नहीं देखा गया। यहां मानसून ने केवल एक घंटा पानी बरसाया है। खड़ी फसल चौपट हो गयी है। लोग दाने दाने को मोहताज हैं। तालाब सूख गये हैं। मवेशियों को राम भरोसे छोड़ दिया गया है। लोगों के पास काम नहीं है कि वे अपना और परिवार का पेट कैसे भरें।

                        राजेन्द्र ने बताया कि राज्य सरकार ने  मरवाही को सूखाग्रस्त घोषित कर दिया है। बावजूद इसके प्रभावितों तक अभी राहत की किरण नहीं पहुंची है।  लोग पलायन को मजबूर हैं। प्रदेश का मुखिया केन्द्र का मुंह देख रहा है कि कब फण्ड आएगा। प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए राजेन्द्र शुक्ला ने बताया कि मुख्यमंत्री कहते हैं कि  खजाने में पैसे नहीं है। ऐसे में पूंजीपतियों को खुश करने के लिए तीन हजार करोड रूपए की स्टाम्प ड्यूटी में छूट देने की क्या जरूरत थी। यह कैसा इंसाफ है। उन्होंने कहा कि गरीबों का पैसा अमीरों को लुटाया जा रहा है। किसान भूखों मर रहा हैं। दरअसल रमन सरकार संवेदनहीन हो चुकी है।

जोगी ने उठाया पोलावरम बांध का मुद्दा

                   राजेन्द्र ने बताया कि यात्रा के जरिये सरकार पर दबाव बनाया जाएगा ताकि क्षेत्र के किसानो और सूखा पीड़ितों को  समय रहते सहायता मिल सके। 16 अक्टूबर को यात्रा गौरेला ब्लाक में होगी। 17 अक्टूबर को पेंड्रा ब्लाक के कोतमी ग्राम में यात्रा का समापन होगा। यात्रा प्रभारी पिनाल उपवेजा ने बताया कि कांग्रेस कमेटी की तरफ से यात्रा की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी है। उपवेजा ने बताया कि चौथे चरण की यात्रा को पहले के तीन चरणों की यात्रा से भी ज्यादा सफलता मिलेगी। यात्रा में पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी,मरवाही विधायक अमित जोगी और कोटा विधायक रेणु जोगी भी शामिल हो सकती हैं।

आपका आभारी

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS