जनता कांग्रेस की मांग:कन्टेन्मेंट जोन युनिवर्सिटी को कर्मचारी हित में तत्काल प्रभाव से बंद करें

रायपुर।जनता काँग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रदेश प्रवक्ता, अधिवक्ता भगवानू नायक ने कहा राजधानी में पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, आमानाका रायपुर क्षेत्र से लगे कुकुरबेड़ा में एक इलेक्ट्रिशियन को कोरोनावायरस हो जाने से क्षेत्र की जनता के साथ ही पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कर्मचारीगण भी दहशत में है। क्योंकि विश्विद्यालय के बाउंड्रीड्रीवाल से ही घनी आबादी वाला झुगी बाहुल्य क्षेत्र कुकुरबेडा लगा हुआ है और विश्विद्यालय के 90 प्रतिशत सफ़ाई कर्मचारी, सुरक्षा गार्ड और अधिकतर कर्मचारी कुकुरबेडा में निवास करते है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप NEWS ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

परंतु यह आम चर्चा का विषय है कि विश्वविद्यालय प्रशासन इसको सामान्य बीमारी की तरह हल्के में ले रहा हैं और इनको कर्मचारियों की तनिक भी चिंता नहीं है और विश्वविद्यालय में कर्मचारियों के आवश्यक रूप से उपस्थिति की मॉनिटरिंग की जा रही है।

गौरतलब हो कि कुकुरबेडा में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद जिला दंडाधिकारी रायपुर, छत्तीसगढ़ के द्वारा कुकुरबेड़ा, आमानाका एवं पंडित रविशंकर शुक्ल विश्विद्यालय के मुख्य द्वार को कंटेन्मेंट जोन घोषित कर दिया है तथा इस क्षेत्र के सभी संस्थानों को तत्काल प्रभाव से बंद करने का आदेश जारी दिया कर गया है परंतु विश्वविद्यालय प्रशासन के द्वारा जिला दंडाधिकारी रायपुर के इस आदेश का गम्भीरता पूर्वक पालन नहीं किया जा रहा है और न ही आयुक्त उच्च शिक्षा संचालनालय का आदेश जिसमें स्वास्थ्य विभाग की गाईड लाइन के अनुसार पृथक से आदेश के माध्यम से कंटेन्मेंट जोन के भीतर कोई भी शासकीय कार्यलय भी संचालित नहीं होंगे , का भी पालन नहीं किया जा रहा है।

अब तक विश्व विद्यालय को बंद नहीं किया गया है बल्कि कमर्चारियों को टेलीफोनिक दबाव बनाकर आवश्यक रूप से यूनिवर्सिटी में उपस्थिति का दबाव बनाया जा रहा है जो कंटेन्मेंट जोन के आदेश का खुला उल्लंघन है तथा विश्विद्यालय के अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए अहितकर है।भगवानू नायक ने कहा कुकुरबेडा में कोरोनावायरस पॉजिटिव मिलने के बाद भी साइंस कॉलेज मैदान में सब्जी का बाजार का संचालन किया जा रहा था। जिला मजिस्ट्रेट के द्वारा प्राचार्य साइंस कॉलेज को जारी नोटिस के बाद बाजार को वहां से हटा दिया गया है।

रविशंकर विश्विद्यालय को भी कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए विश्विद्यालय के अधिकारियों, कर्मचारियों के हित मे आगामी आदेश तक पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय को तत्काल प्रभाव से बंद किए जाने का मांग जनता कांग्रेस ने की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *