ट्यूब-वेल में जहर मिलाने से हड़कम्प, प्रशासन ने बंद करा दी बोरिंग

amsena_index_fileबिलासपुर।बिल्हा इलाके में चकरभाठा थाना अंतर्गत अमसेना गांव में पीने के पानी के बोरिंग में जहर डालने की खबर से बुधवार को हड़कंप मच गया। प्रशासन ने तुरत पहल कर बोरिंग  (हेंड पम्प) बंद करा दिया। गांव में लोगों के लिए पीने के पानी का इंतजाम टैंकर के जरिए किया गया है। पुलिस ने बोरिंग के पास पड़ा कीटनाशक का डिब्बा जब्त कर छानबीन शुरू कर दी है।

                bor_file_amsena                   सीजीवाल को मिली जानकारी के मुताबिक अमसेना गांव के चौक पर बने बोरिंग के पानी  में बुधवार की सुबह किसी शरारती तत्व ने कीटनाशक जहर डाल दिया । सुबह- सुबह जब लोग पानी लेने पहुंचे तो तीखी गंध से इसका अंदाजा लगा। यह बोरिंग कल ही कराया गया था। बोर करने के बाद उसे बोरे से ढक कर  उसके चारो तरफ सुरक्षा के लिए कांटे लगा दिए थे। शरारती तत्व ने कांटा और बोरा हटाकर उसमें कीटनाशक डाला और उसका डिब्बा पास ही फेक दिया । दुर्गंध आने पर गांव में हड़कम्प मच गया । इसकी खबर प्रशासन को मिली तो आला अफसर तुरत ही मौके पर पहुंचे। गांव में कोटवार के जरिए मुनादी कराई गई कि कोई भी बोरिंग का पानी इस्तेमाल न करे।पीएचई के अफसर भी गांव में पहुंचे और तुरत-फुरत बोरिंग को रेत डालकर बंद कर दिया।इसके लिए उसी समय एक हाइवा में रेत मंगाई गई। गांव के लोगों के लिए पीने का इंतजाम करते हुए तुरत एक टैंकर भेजा गया।

                                 मौके पर पहुंची चकरभाठा पुलिस ने बोरिंग के पास से कीटनाशक का डिब्बा जब्त कर लिया है। जानकारी दी गई है कि प्रशासन और गांव वालों की जागरूकता से बोरिंग के पानी का उपयोग नहीं किया गया । जिससे किसी के प्रभावित होने की खबर नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *