कांग्रेस के प्रभारी सचिव ने कहा…हमारे यहां नागपुर से नहीं…जनता के बीच से आएगा प्रत्याशी..नहीं बताई प्रत्याशी एलान की तारीख

बिलासपुर—कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और प्रदेश प्रभारी चंदन यादव ने बताया कि कांग्रेस में नागपुर से नहीं…जनता के बीच से प्रत्याशियों का चुनाव होता है। प्रदेश का एक एक वर्ग वर्तमान सरकार से त्रस्त है। कार्यकर्ताओं और दावेदारों के साथ खड़ी भीड़ यह बताती है कि प्रदेश सरकार की उल्टी गिनती अब शुरू हो चुकी है। जनता ने पूरी तरह से मन बना लिया है कि सरकार को बदलना है। राहुल गांधी ने लोकतांत्रिक मूल्यों का सम्मान करते हुए प्रत्याशी चयन की जिम्मेदारी जनता को दी है। जनता ही प्रत्याशी का चयन कर रही है। दावेदारों के साथ खड़ी भीण और नारेबाजी करने वालों की तरफ इशारे करते हुए चंदन यादव ने कहा कि यह असंतोष नहीं बल्कि जनता का उत्साह है।

                      पिछले दो दिनों से कांग्रेस कार्यालय में टिकट दावेदारों और उनके समर्थकों की भारी भीड़ देखने को मिल रही है। एक दिन पहले प्रदेश प्रभारी और स्क्रीनिंग कमेटी की टीम ने पांच विधानसभा के संगठन पदाधिकारियों के साथ दावेदारों से रायशुमारी की। आज बेलतरा और मस्तूरी दावेदारों के अलावा संगठन पदाधिकारियों के साथ चर्चा हुई। जब बंद कमरे में दावेदारों से स्क्रिनिंग कमेटी के सदस्य दावेदारी का राज पूछ रहे थे। ठीक उसी समय कांग्रेस कार्यालय के बाहर समर्थक नारेबाजी कर दावेदारों का हौसला बढ़ा रहे थे। बीच बीच में यह भी सुनने को मिल रहा था कि स्क्रिनिंग तो बहाना है..टिकट तो पहले से तय हो चुका है। लेकिन पत्रकारों से बातचती करते हुए प्रदेश प्रभारी ने सारे आरोप को इंकार किया। उन्होने कहा कि लोगों को खुलकर बोलने और समर्थन करने की आजादी केवल कांग्रेस में ही है।

          बातचीत के दौरान डॉ.चन्दन यादव ने बताया कि मैं और केन्द्रीय स्क्रिनिंग कमेटी के सदस्य रोहित चौधरी के साथ पिछले दो दिनों से दावेदारों से बातचीत कर रहे हैं। दावेदारों के समर्थकों के साथ भी बातचीत कर रहे हैं। लोगों में भारी उत्साह है। उत्साहित लोग दावेदारों का समर्थन कर 15 साल पुरानी भाजपा सरकार को हटाना चाहते हैं। कांग्रेस कार्यालय के बाहर खड़ी भीड़ और नारेबाजी में झलक रहा अंसतोष..कांग्रेस के खिलाफ..बल्कि प्रदेश भाजपा सरकार के खिलाफ है। चंदन यादव ने बताया पिछले कुछ महीनों से प्रदेश के कोने कोने में दौरा हो रहा है। युवा,मजदूर,किसान,व्यापारी,उद्योगपति,आम जनता सभी लोग त्रस्त है। कमोबेश सभी वर्ग ने प्रदेश से भाजपा सरकार को विदा करने का मन बना लिया है।

                    बार बार रायशुमारी क्या बिलासपुर में भारी असंतोष है के सवाल पर डॉ.चन्दन ने कहा कि कहीं असंतोष नहीं है। यह भीड़ तो दावेदारों के समर्थन में नारेबाजी कर रही है। हर समर्थक चाहेगा कि उसके कार्यकर्ता को टिकट मिले। लेकिन समर्थक यह भी चाहता है कि जिसे भी टिकट मिले वह जीतकर रायपुर जाए। चन्दन ने बताया कि इसे ही सच्चा लोकतंत्र कहते हैं।

     ऊपर से कितनी टिकट बंटेगी…चन्दन यादव ने बताया कि हमारे यहां जनता और कार्यकर्ताओं की रायशुमारी से टिकट तय किया जाता है। ऊपर से टिकट नागपुर से तय होती है। राहुल गांधी के निर्देश पर ब्लाक,बूथ जिला स्तर पर प्रत्याशी चयन को लेकर कार्यकर्ताओं के साथ दावेदारों के साथ रायशुमारी हुई है। हम लोग केवल दावेदारों से वन टू वन होकर फायनल प्रत्याशी की तरफ बढ रहे हैं।

राहुल गांधी ने कहा था कि 15 अगस्त तक टिकट का एलान कर दिया जाएगा…अब लगता है कि उन्होने चुनाव के 15 दिन पहले तक टिकट देने का एलान किया था। चन्दन यादव ने कहा कि ऐसा नहीं है…राहुल गांधी ने 15 प्रक्रिया को पूरा करने को कहा था। जल्द ही बाकी प्रक्रिया को पूरी कर प्रत्याशियों के नाम का एलान किया जाएगा। अभी चुनाव तारीख का भी एलान नही हुआ है।

जानकारी मिल रही है कि दावेदारों को कहा जा रहा है कि दो अन्य दावेदारों का नाम बताएं। आखिर क्यों…चन्दन यादव ने बताया कि यह प्रक्रिया का हिस्सा है। सभी दावेदारों को कहा जा रहा है कि यदि पार्टी उनके नाम पर विचार नहीं करती है तो किसे समर्थन करेंगे। दावेदार भी खुशी खुशी दो नाम बता रहे हैं। इसमें गलत क्या है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *