राज्य स्तरीय विज्ञान मेले में ग्राम बड़ेबेंदरी के विद्यार्थियों ने बढ़ाया जिले का मान,राष्ट्रीय स्तर के विज्ञान मेले में हुआ 2 छात्रों का चयन


परख कार्यक्रम, चार ब्लॉक , उत्कृष्ट, प्रधान पाठक, चयन,chhattisgarh,news,dhamtari,chhattisgarh local news,cgwall,news portal,chhattisgarh,breaking news,bilaspurकोण्डागांव-
जिला कोण्डागांव के ग्राम बड़ेबेंदरी स्थित शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के विद्यार्थियों ने सूरजपूर जिले में आयोजित चार दिवसीय राज्य स्तरीय विज्ञान, गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी मेले में अपने विज्ञान मॉडलों के बलबूते उत्कृष्ट प्रदर्शन कर क्रमशः प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त किया। इस विज्ञान प्रदर्शनी में कक्षा दसवीं के छात्र मोनू निषाद ने औद्योगिक विकास के अंतर्गत प्लास्टिक से ऊर्जा एवं मेथेनाल उत्पादन का मॉडल प्रदर्शित कर राज्य स्तर में प्रथम तथा समूह प्रोजेक्ट के तहत कु.रविना देवांगन एवं हिमराज कोर्राम ने हाईड्रोकोनिक्स यंत्र बनाकर द्वितीय स्थान प्राप्त किया। इसके साथ रविना देवांगन एवं हिमराज कोर्राम राष्ट्रीय स्तर के मुबंई (नेहरु साइंस पार्क) में आयोजित पश्चिम भारत विज्ञान मेले में शामिल होंगे। ज्ञात हो कि पिछले वर्ष भी बड़ेबेंदरी हाईस्कूल के छात्रों ने महात्मा गांधी के जयंती पर आयोजित राज्य स्तरीय विज्ञान मेले में तीसरा स्थान प्राप्त किया था। इन छात्रों को प्राचार्य शिव कुमार तिवारी एवं व्याख्याता अंकित कुमार गुप्ता द्वारा मार्गदर्शन दिया गया था। इस दौरान छात्रों से रुबरु होते हुए जिला कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि राज्य स्तरीय विज्ञान मेला में स्थानीय छात्रों के शानदार प्रदर्शन से जिला गौरवान्वित है। इसके लिए छात्रों के साथ-साथ उनके शिक्षक भी बधाई के पात्र है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करे

निःसंदेह आज का युग विज्ञान का युग है विज्ञान ने मानव जीवन को सरल, सुखद एवं सुविधापूर्ण बनाया है अतः प्रत्येक विज्ञान के छात्र को अपनी वैज्ञानिक सोच रखनी चाहिए, क्योंकि आज जो जीवन हम जी रहे है वह विज्ञान की ही देन है। एक जिज्ञासु प्रवृत्ति ही हमें नए-नए खोज के लिए प्रेरित करती है अतः प्रत्येक छात्र अपनी सोच को व्यापक रखते हुए बड़ी से बड़ी उपलब्धियाँ प्राप्त कर सकता है। इस मौके पर छात्रों ने विज्ञान मेले में प्रदाय किए गए शील्ड एवं प्रमाण पत्रों को जिला कलेक्टर के समक्ष दिखाया।

इस दौरान जिला शिक्षा अधिकारी राजेश मिश्रा, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जी.एस.सोरी उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि विगत् दिनांक 28 सितम्बर को जिला मुख्यालय सूरजपूर के हीरालाल साधूराम सेवा कुंज में 19वीं राज्य स्तरीय विज्ञान, गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी तथा पश्चिम भारत विज्ञान मेला 2019 का समारोह सम्पन्न हुआ था। जिसमें प्रदेशभर के 9 जोन से आए छात्र-छात्राओं के विज्ञान मॉडल प्रदर्शित किए गए थे। इसके तहत रायपुर जोन को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए प्रथम पुरस्कार से प्रदेश के स्कूल शिक्षा, अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण, सहकारिता मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम द्वारा सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *