शिक्षा विभाग:परीक्षा ऑनलाइन..लेकिन काम ऑफलाइन , तबादला सूची अब तक पोर्टल में अपलोड नहीं

बिलासपुर।शिक्षा विभाग की परीक्षा अब आन लाइन होने लगी है । पर काम के आदेश अब तक आफ लाइन है। लगता है कि शिक्षक संवर्ग के तीनों वर्गों में तीन बार निकाली गई राज्य स्तर  की स्थानांतरण सूची और जिला स्तर स्थानांतरण सूची जिसमे कई त्रुटियां थी,  उसकी संशोधित स्थानांतरण सूची फाइलों में कही दबी हुई है। इस वजह से अब तक पोर्टल में अपलोड नही हो पाई है।शिक्षक अब भी चौथी स्थानांतरण सूची का इंतज़ार कर रहे है।इसे लेकर सोशल मिडिया में तर्क और कुतर्क जारी है, सबके अपने अपने दावे है कि स्थानांतरण आज कल में जारी हो सकती है। पर ऐसे कई कल गुजर गए है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

14 अक्टूबर ग्रेगोरी कैलंडर के अनुसार वर्ष का 287वॉ (लीप वर्ष मे 288 वॉ) दिन है। साल मे अभी और 78 दिन बाकी है। 14 अक्टूबर को शिक्षा विभाग के स्कूल खुले 129 दिन पूरे हो गए है। 199 दिन का स्कूल सत्र बाकि है। 1 मई से ग्रीष्म कालीन अवकाश लग जायेगा। इस बचे हुए 199 दिन में 28 रविवार की छुट्टियां है।

दीपावली और शीत कालीन अवकाश की छुट्टियां सहित अन्य अवकाश भी है। नगरीय निकाय और पंचायत चुनाव भी इसी  बचे हुए 199 दिनों में होना है।

स्कूल शिक्षा विभाग के शिक्षक संवर्गो की  स्थानांतरण सुचियो में गड़बड़ी किसी से छिपी नहीं है। जिला और राज्य स्तर प्रथम सूची में से कुछ संसोधित स्थानांतरण सुचि  संभवत जिला और राज्य स्तर पर जारी हुई है।

दूसरी और तीसरी स्थानांतरण सूची में हुई त्रुटि के संसोधन का भी कोई अता पता नही है। और तो और अब तक जो स्थानांतरण मे संशोधन हुए है, वे भी  शिक्षा विभाग के पोर्टल में अपलोड नही हुए है।

त्रुटियों से भरी शिक्षक संवर्ग की स्थानांतरण सूची के संसोधित स्थानांतरण सूची का इंतजार अब काफी लंबा हो चला है।जिसकी वजह से जिन शिक्षको के स्थानांतरण में त्रुटि थी उसका क्या हुआ यह अब तक सार्वजनिक नही हो पाया है। अधिकारी भी अब इस विषय मे गोलमोल जवाब देने लगे है।

शिक्षको के प्रशासनिक स्थानांतरण और स्थानांतरण से जो सन्तुष्ट नही थे, उन्हें अपील करने का अधिकार सरकार द्वारा गठित कमेटी के पास था । उस कमेटी का क्या हुआ कितने आवेदन आये कितने आवेदनों का निपटारा हुआ अब तक न तो पोर्टल में दिखा न ही सार्वजनिक नही हुआ है।

कुल मिला कर स्कूल शिक्षा विभाग अब तक स्थानांतरण नीति की धज्जियां उड़ाता हुआ जैसे चाह वैसे कई किस्तों में सभी शिक्षक संवर्ग की स्थानांतरण सूची  जारी करता रहा है। जिला से लेकर राज्य स्तर की स्थानांतरण सूची में हुई गड़बड़ीयो पर अब तक जिले से लेकर राज्य स्तर पर पूर्ण संशोधित सूची भी टुकडो में कही कही जारी हुई है या जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में मैनेज हो गई है। विभाग सारी गलती का ठीकरा विपक्ष के रिश्तेदार एक अधिकारी पर फोड़ कर खुद को पाक साफ साबित करने पर तुला हुआ है।

शिक्षा विभाग में अध्ययन से जुड़े प्रयोग हो या बीच सत्र में ट्रांसफ़र पोस्टिंग की कब्बडी दसवीं बारहवीं के नतीजे अगर खराब निकले तो इन सबका ठीकरा शिक्षको के मत्थे मढ कर शिक्षा विभाग फिर से पाक साफ हो जायेगा।

Comments

  1. Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *