सहकारी बैंक ATM ठगी काण्डः किसान नेता ने बताया..स्टेटमेन्ट से हो रहा जाहिर..कर्मचारियों की भूमिका संदिग्ध

बिलासपुर—– किसान नेता धीरेन्द्र दुबे और पीड़ित किसान ठाकुर राम साहू ने बताया कि एटीएम ठगी को अंजाम बैंक का कोई कर्मचारी दे रहा है। इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि ठगी में दो या इससे अधिक लोगों का हाथ है। धीरेन्द्र दुबे ने बताया कि किसान ठाकुर राम साहू के खाते से 1 लाख 60 हजार रूपए जिला सहकारी बैंक के एटीएम से निकाला गया है। स्टेटमेन्ट से जाहीर होता है कि इसमें बैंक का ही कोई कर्मचारी शामिल है।

                      किसान नेता धीरेन्द्र दुबे ने बताया कि सहकारी बैंक एटीएम के जरिए किसानों के खाते से अब तक लाखों रूपए निकाले जा चुके हैं। लेकिन बैंक प्रबंधन कोई ठोस कदम नहीं उठा रहा है। इस बात से इंकार नही किया जा सकता है कि पूरे प्रकरण  में बैंक का कोई ना कोई कर्मचारी जरूर शामिल है। पहली बात तो सुरक्षा के बीच एक्टिवेटेड रूपी कार्ड आरोपी तक कैसे पहुंचा। यह बहुत बड़ी चिन्ता की बात है।

                    धीरेन्द्र दुबे के अनुसार ठाकुर राम साहू के खाते से 1 लाख 60 हजार रूपए एटीएम कार्ड के जरिए निकाला गया है। मजेदार बात है कि सारी राशि जिला सहकारी बैंक के एटीएम से ही निकाले गए हैं।  रूपया निकालने का समय भी ऐसा है कि जिसके चलते बैंक कर्मचारियों पर शक अपने आप होने लगता है। धीरेन्द्र ने कहा कि ठग ने सुबह सात बजे जिला सहकारी बैंक एटीएम बूथ से रूपया निकाला है। शाम 6 बजे और दोपहर लन्च के समय भी एटीएम बूथ से रूपये निकाले गए हैं। इसके चलते इस बात को बल मिलता है कि हो ना हो बैंक का कोई व्यक्ति ही है..जो बैंक में रहते हुए मौका पाकर रूपया का आहरण किया है। हर बार उसने 20 हजार रूपए निकाले। और उसने ऐसा 8 बार किया है।

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *