सीडीआर से खुलासा..पिता ने दी बेटे को मौत की सजा..पुलिस से नहीं गली दाल..फिर बोला सच

बिलासपुर—- पुलिस ने सकरी थाना क्षेत्र में जुलाई महीने में हुई अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने बाप को बेटा कातिल बताया। पुलिस के अनुसार बेटे की आदतों से परेशान होकर पिता ने बांधकर मारा। अन्दरूनी चोट लगने से बेटे की मौत हो गयी। यद्यपि आरोपी ने पूरे मामले में बचने का प्रयास किया। लेकिन सीडीआर ने सारा भेद खोल दिया। अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने के बाद पुलिस ने आरोपी को न्यायिक रिमाण्ड पर जेल दाखिल कराया है।
 
                सकरी पुलिस के अनुसार थाना सकरी में 17 जुलाई 2021 को सिम्स अस्पताल से मेमो मिला। इसके साथ ही जानकारी मिली कि सकरी थाना क्षेत्र में एक लड़के की मौत हुई है। मेमों के आधार पर धारा 174 कायम कर जांच प्रारम्भ किया गया। पंचनामा कार्रवाई समेत सिम्स से पीएम रिपोर्ट को भी हासिल किया गया। इस दौरान जानकारी मिली कि मृतक का नाम जेक्स धृतलहरे उम्र 12 साल है।
 
                     परिजनों ने बताया कि जेक्स घृतलहरे 16 जुलाई को दिन के करीब  दस बजे तीन दिन बाद जेक्स घृतलहरे घर आया। यकायक तबीयत खराब होने पर 108 से दोपहर करीब ढाई बजे सिम्स में दाखिल कराया गया। लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले जेक्स की मौत हो गयी। जांच पड़ताल के बाद डाक्टरों ने जेक्स को ब्राड डेड़ घोषित कर दिया।
 
             पुलिस जानकारी के अनुसार पीएम रिपोर्ट में बताया गया कि जेक्स की मौत शरीर में आई बाहरी और आन्तरिक चोट से हुई है। मृतक के सिर में अंदरूनी गंभीर चोट पहुंची है। रिपोर्ट के आधार पर अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 का अपराध दर्ज किया गया। इसके साथ ही अज्ञात हत्यारे की तलाश भी शुरू हुई। 
 
               पुलिस ने विवेचना के दौरान पाया कि पीएम रिपोर्ट में मृतक जेक्स धृतलहर के पेट में अधपचा दाल चावल होना बताया गया है। पूछताछ के दौरान मृतक की माँ सीमा ने बताया कि घर से तीन दिन गायब रहने के बाद जेक्स घर लौटा। लेकिन बिना खाने खाए पानी पीकर सो गया था। जबकि पुलिस को जेक्स के पिता शिवा धृतलहरे ने जानकारी दी कि घटना के दिन दोपहर करीब 1.30 बजे आटो चलाने घर से निकला था। इसलिए जेक्स की मौत कैसे हुई..बताना मुश्किल है।
 
            पुलिस के अनुसार दोनों के बयान में विरोधाभास पाया गया। क्योंकि सीडीआर खंगालने पर जानकारी मिली कि घटना के दिन मृतक का पिती शिवा घर पर ही था। इसके बाद संदेही मृतक के पिता शिवा धृतलहरे को थाना लाकर कड़ाई से पूछताछ हुई। 
 
           पूछताछ के दौरान मृतक के पिता ने अपराध कबूल किया। शिवा ने बताया कि वह  लोखण्डी रामघाट पारा में परिवार के साथ रहता है। उसके दो लड़के और एक लड़की है। सवारी ऑटो चलाने का काम करता है। छोटा लड़का जेक्स धृतलहरे नशा का आदी था। आए दिन घर से भाग जाता था। जिसके चलते वह बहुत परेशान था।
 
              16 जुलाई के तीन दिन पहले जेक्स बिना बताए घर से गायब हो गया। 16 जुलाई को ही सुबह करीब 10 बजे घर के बाहर जेक्स दिखाई दिया। बुलाने पर नदी की तरफ भागने लगा। बड़ा लड़का जेम्स ने पकड़ घर लाया। गुस्से में आकर पत्नी की चुन्नी से उसका हाथ पैर बांधा। साथ ही खटिया से भी बांध दिया। फिर बांस के डण्डा से पीटना शुरू कर दिया। इसके बाद ऑटो लेकर उस्लापुर स्टेशन चला गया। 
 
          स्टेशन पहुंचने के थोड़ी देर बाद बड़ा लड़का जेम्स ने मोबाइल पर बताया कि जेक्स बेहोश हो गया है। खबर के बाद हड़बड़ाकर घर आने लगा। रास्ते में उसका एक्सीडेंट हो गया। आस पास के लोगो ने सिम्स अस्पताल में भर्ती कराया। 
 
                 इसी दौरान जेक्स को भी 108 के सहयोग से सिम्स लाया गया। डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने जेक्स की पिटाई के दौरान उपयोग किए गए बांस का डण्डा, चुन्नी को बरामद किया है। आरोपी शिवा धृतलहरे के खिलाफ 302 और 201 का अपराध कायम किया। विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।
 
           अँधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने में थाना प्रभारी उप निरीक्षक प्रसाद सिन्हा, उप पुलिस निरीक्षक एस.बी.एस. परिहार, राजेश्वर क्षत्री, अशोक कश्यप, आरक्षक जय साहू, अभिजीत डाहिरे, मालिकराम साहू, सानंद तिग्गा की विशेष भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *