सीयू में लिया गया ‘नये भारत का संकल्प’

naya bharatबिलासपुर। गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय में मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली के दिशा निर्देशानुसार विश्वविद्यालय के शिक्षकों, अधिकारियों, कर्मचारियों एवं छात्र-छात्राओँ द्वारा नये भारत का संकल्प लिया गया। कुलसचिव (कार्यवाहक) प्रोफेसर बी.एन तिवारी ने विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन में अधिकारियों एवं कर्मचारियों को ‘नये भारत का संकल्प’ दिलाया।
बुधवार को विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों में प्रातः 9.30 बजे एवं प्रशासनिक भवन में प्रातः 9.45 बजे मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली द्वारा हिंदी एवं अंग्रेजी भाषा में भेजे गये ‘नये भारत का संकल्प’ का वाचन किया गया एवं सभी के द्वारा मिलकर नये भारत के निर्माण का संकल्प लिया गया। जिसमें आजादी के 75 साल पूरे होने पर वर्ष 2022 तक नये भारत का निर्माण करने का संकल्प शामिल है।
इस संकल्प के माध्यम से भारत को स्वच्छ बनाने, गरीबी, भ्रष्टाचार, आतंकवाद, संप्रदायवाद एवं जातिवाद से मुक्त कर नये भारत के निर्माण के अपने इस संकल्प की सिद्धि के लिए हम सब मन और कर्म से जुट जायेंगे की बात कही गई।
इस संकल्प प्रक्रिया में विश्वविद्यालय के विभिन्न अध्ययनशालाओं के अधिष्ठातागण, विभागाध्यक्षगण, अधिकारीगण, कर्मचारीगण एवं छात्र-छात्राओँ ने हिस्सा लिइस मौके पर विश्वविद्यालय परिवार ने संकल्प लिया कि हम सब मिलकर संकल्प लेते है एक नये भारत का।
1942 में हमारे स्वतंत्रता सेनानियों ने एक संकल्प लिया था,
भारत छोड़ो का और 1947 में वह महान संकल्प सिद्ध हुआ,
भारत स्वतंत्र हुआ।
हम सब मिलकर संकल्प लेते है 2022 तक नये भारत के निर्माण का।
हम सब मिलकर संकल्प लेते है, स्वच्छ भारत का।
हम सब मिलकर संकल्प लेते है, गरीबी मुक्त भारत का।
हम सब मिलकर संकल्प लेते है, भ्रष्टाचार मुक्त भारत का।
हम सब मिलकर संकल्प लेते है, आतंकवाद मुक्त भारत का।
हम सब मिलकर संकल्प लेते है, संप्रदायवाद मुक्त भारत का।
हम सब मिलकर संकल्प लेते है, जातिवाद मुक्त भारत का।
नये भारत के निर्माण के अपने इस संकल्प की सिद्धि के लिए
हम सब मन और कर्म से जुट जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *