सूदखोरों के खिलाफ आईजी ने कसा शिकंजा

IGबिलासपुर—बिलासपुर रेंज पुलिस महानिरीक्षक पवन देव ने बिलासागुड़ी में रेंज अधिकारियों के साथ बैठक की। आईजी ने सभी थाना प्रभारियो से सूदखोरो के खिलाफ अभियान का जायजा लिया। जांच में देरी के लिए फटकार लगाने साथ सूदखोरी की शिकायत को गंभीरता से लेने को कहा है।

                          बिलासागुड़ी में आयोजित रेंज स्तरीय पुलिस बैठक में आईजी पवन देव ने एक बार फिर सूदखोरी के मामले को गंभीरता से लिया है। बैठक में बिलासपुर, मुगेली, कोरबा, जांजगीर चांपा और रायगढ़ के थाना प्रभारी विशेष रूप से शामिल हुए। सूदखोरों के खिलाफ चलाए गए अभियान की प्रगति रिपोर्ट पर आईजी ने चिंता जाहिर की है। अधिकांश सूदखोर मजबूत साक्ष्य नहीं होने के चलते न्यायालय से आजाद हो गये हैं। कुछ सूदखोरो पर पुलिस ने शिंकजा कसा लेकिन किसी ना किसी बहाने वे भी बच गए। कुछ की फाइल हमेशा के लिए बंद गयी। इसकी मुख्य वजह सूदखोरों का मौत होना बताया जा रहा है।

                                             सूदखोरों के खिलाफ बार-बार आ रही शिकायतों के मद्देनजर एक बार फिर आई जी ने रेंज स्तर की बैठक आयोजित कर संभाग के सभी थाना प्रभारियो को निर्देश है कि सूदखोरों के खिलाफ किसी प्रकार की लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी। बैठक के  दौरान आई जी सूदखोरो के खिलाफ उठाए जाने वाले कदमों पर विचार विमर्श किया। उन्होने सूदखोरों के खिलाफ उठाए कदमों की जानकारी ली। कोर्ट में पेश किए साक्ष्यों के बारे में दिशा निर्देश दिया। अधिकांश थाना प्रभारियो को फटकार लगाते हुए बेगुनाहो को इंसाफ दिलाने और सूदखोरो को सजा दिलाने के साथ जांच में तेजी लाने को कहा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *