जंगली सुअर का शिकार मामले में 5 को जेल..तेरहवी खाने पहुंचा रिश्तेदार भी सपड़ाया..फरार आरोपियों की तलाश

बिलासपुर(रियाज़ अशरफी)– बिजली करंट लगाकर जंगली सुअर का शिकार करने वाले पांच आरोपियों को न्यायालय ने रिमांड पर जेल भेज दिया है। जबकि जंगल विभाग को फरार दो आरोपियों की अभी भी तलाश है। गिरफ्तार आरोपियों में से कोर्ट ने एक को जमानत पर रिहा किया है।
 
              जानकारी देते चलें कि गुरूवार को वन अमले को जानकारी मिली कि सीपत वन सर्किल के ठरकपुर बिट आरएफ-2 स्थित हिंडाडीह (विश्रामपुर) बंधिया खार में आरोपियों ने 8 जंगली सुअर का शिकार किया है। वन विभाग को मुखबीर ने बताया कि आरोपियों ने हिंदाडीह स्थित फार्म हाउस में जंगली सुअर को छिपाकर रखा है। जंगली सुअर का शिकार तार में करंट प्रवाहित कर किया गया है। 
 
                   जानकारी के बाद वन अमल आनन फानन में फार्महाउस पहुंच गया। मौके से जंगली सुअरे के शिकारियों को सुअर को काटते 5 लोगों को रंगे हाथ धर दबोचा। जबकि दो आरोपी भागने में कामयाब रहे। फार्महाउस के मालिक नागेश्वर पटेल को पत्नी की मौत पर आयोजित तेरहवी कार्यक्रम के दौरान टीम ने गिरफ्तार किया। पकड़े गए सभी आरोपियों के खिलाफ भारतीय वन अधिनियम 1927 की धारा 52, वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9 ,39 ,50 व 51 के तहत अपराध दर्ज किया गया। 
 
प्लाट मालिक नागेश्वर को जमानत 5 को जेल
 
       वन विभाग ने आरोपियों शुक्रवार को बिलासपुर न्यायालय में पेश किया। प्लाट मालिक नागेश्वर पटेल को जमानत पर रिहा किया गय। मुख्य आरोपी प्लाट के चौकीदार इतवार सिंह धनुहार,गैतराम धनुहार,नारायण सिंह गोंड,लक्ष्मण सिंह धनुहार,बाबूलाल पटेल को जेल भेजा गया।  फरार आरोपी संतोष सिंह और चैतराम गोंड की तलाश की जा रही है। दोनो भदरापारा हिंडाडीह के रहने वाले हैं। 
 
तेरहवी खाने आया था बाबूलाल पटेल..भेजा गया जेल
 
बाबूलाल पटेल साला की पत्नी की तेरहवीं खाने अकलतरा से ठरकपुर आया था।इसी दौरान वह  प्लाट घूमने भी आया था। आरोपियों को मांस काटते देख रुक गया। ठीक उसी समय उड़नदस्ता की टीम पहुंच गयी। सभी आरोपियों के साथ उसे भी वन विभाग की टीम ने धर दबोचा। तेरहवीं खाने आये बाबू लाल को अब कोर्ट ने जेल की हवा खाने भेज दिया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *