मेरा बिलासपुर

8- 9 मई को महाराष्ट्र से आएंगे 2400 मजदूर..7 और 8 को नांदियाड़ से छूटेगी विशेष ट्रेन.दूसरे दिन पहुचेंगी बिलासपुर

बिलासपुर— छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य से बाहर कमाने खाने गए छत्तीसगढ़ियों को ट्रेन से वापस लाने का फैसला किया है। देश के कोने कोने में फंसे सभी मजदूरों  को विशेष ट्रेन से छत्तीसगढ़ लाया जाएगा। ट्रेन प्रदेश के छः प्रमुख जिलों में रूकेंगी। इसके बाद फिर आगे के लिए रवाना हो जाएगी। बहरहाल राज्य सरकार के निर्देश पर मजदूरों के स्वागत में प्रशासन ने कमर कस लिया है। इसी क्रम में बिलासपुर में भी मजदूरों के आगमन को लेकर सुरेश सिंह की अगुुवाई में टीम सक्रिय हो गयी है। 

                 जानकारी हो कि जिला प्रशासन ने एक दिन पहले ही महिला एवं बालविकास अधिकारी सुरेश सिंह को प्रवासी मजदूर मामले को लेकर नोडल अधिकारी बनाया है। बिलासपुर पहुंचने वाले सभी छत्तीसगढ़िया प्रवासी मजदूर सुरेश सिंह की निगरानी में रहेंगे। बिलासपुर पहुंचने के बाद मजदूरों को 14 दिनों तक क्वारंटीन मे रखा जाएगा। 

       सूत्रों की माने तो महाराष्ट्र से दो ट्रेन मजदूरों को लेकर 9 और 10 मई को बिलासपुर पहुंचेगी। दोनो ट्रेन मजदूरों को लेकर अलग अलग तारीख को नांदियाड़ से रवाना होगी। पहली ट्रेन 1150 से अधिक मजदूरों को लेकर नांदियाड़ से 7 मई शाम 6 बजे छूटेगी। ट्केन में करीब 790 मजदूर यात्री  खास बिलासपुर होंगे। 

                      जानकारी के अनुसार दूसरी ट्रेन भी नांदियाड़ से दूसरे दिन यानि 8 मई को शाम 6 बजे बिलासपुर के लिए रवाना होगी। यह ट्रेन 9 मई को नांदियाड़ से छूटने के बाद 14 घंटे बाद पहुंचेगी। ट्रेन से करीब 1200 यात्री होंगे। 

           बताते चलें कि देश इस समय कोरोना महामारी की चपेट में है। लाकडाउन के बाद बाहर राज्य में फंसे मजदूरों को शासन ने घर लाने का फैसला किया है। छत्तीसगढ सरकार की मांग पर रेल मंत्रालय ने ट्रेन से बाहर राज्यों में फंसे मजदूरों को सकुशल घर तक पहुंचाने का फैसला किया है। भारत सरकार के रेल मंत्रालय ने एलान किया है कि ट्रेन यात्रियों की 85 प्रतिशत भाड़ा केन्द्र और 15 प्रतिशत भाड़ा राज्य सरकार देगी।  

मुरूम परिवहन वालों पर कार्रवाई... लगभग 2 करोड़ की वसूली..अनिल बिल्डकान समेत कई लोगों पर जुर्माना

               बहरहाल बिलासपुर जिला प्रशासन ने प्रवासी मजदूरों के स्वागत और व्यवस्था को लेकर टीम का एलान कर दिया है। नोडल अधिकारी महिला एवं बाल विकास अधिकारी सुरेश सिंह को बनाया गया है। ट्रेन से बिलासपुर पहुंचने वाले सभी मजदूरों का स्वागत नोडल की टीम करेगी।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS