सीपत में आमसभा..जयरामनगर में विश्राम

IMG-20151026-WA0001बिलासपुर– सीपत में किसान अधिकार न्याय यात्रा का स्थानीय विधायक दिलीप लहरिया और सैकड़ों कांग्रेसियों ने स्वागत किया। इस दौरान आमसभा का आयोजन किया गया। सभा को स्थानीय विधायक और किसान न्याय यात्रा के अगुवा राजेन्द्र शुक्ला ने संबोधित किया। जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष ने सरकार से कर्मचारियों की ही तरह किसानों के हितों को ध्यान रखते हुए समिति गठन की मांग की है। आमसभा को स्थानीय विधायक दिलीप लहरिया ने भी संबोधित किया।

                  जिला कांग्रेस की किसान न्याय यात्रा टीम आज सीपत पहुंची। पदयात्रियों का स्वागत स्थानीय विधायक लहरिया और कांग्रेसी कार्रयकर्ताओं ने किया। इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए राजेन्द्र शुक्ला ने कहा कि किसानों के लिए भी एक समिति का गठन करना चाहिए। आम कर्मचारियों के हितों का ध्यान जिस प्रकार रखा जाता है। उसी तरह समिति भी किसानों की समस्याओं को ध्यान में रखकर सरकार को सुझाव देगी। शुक्ला ने कहा कि सरकार किसान और गरीबों की विरोधी है। उन्होंने उपस्थित लोगों से बताया कि प्रदेश सरकार रजिस्ट्री के नए नियमों के बहाने परेशान कर रही है। उन्होंने कहा कि किसानों को समर्थन और बोनस नहीं देने वाली सरकार अब ग्राम पंचायतों से संपत्ति कर के बहाने वसूली कर रही है। उन्होंने आउटसोर्सिंग का विरोध करते हुए कहा कि स्थानीय युवकों के साथ कांग्रेस पार्टी अन्याय नहीं होने देगी। असके लिए सड़क से सदन लड़ाई लड़ने की जरूरत पड़ी तो लड़ेगे।

                    स्थानीय विधायक  दिलीप लहरिया ने उपस्थित लोगों से वार्तालाप के अंदाज में संबोधित किया। उन्होंने पदयात्रा टीम की जमकर तारीफ की। लहरिया ने कहा कि प्रदेश सरकार कांग्रेस विधानसभा क्षेत्र के दोहरा मापदन्ड अपना रही है। उन्होंने आउटसोर्सिंग विरोध के साथ ही मस्तूरी विधासभा को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग की है।

                                   संभागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय ने कहा कि किसान अब जाग चुका है। वह कांग्रेस के साथ कदम से कदम मिलाकर चल रहा है। परिवर्तन दिखाई देने लगा है। यदि अभी चुनाव हो जाएं तो भाजपा को सरकार बनाने के लाले पड़ जाएंगे। उन्होंने कहा कि एक तरफ प्रदेश की जनता भूख और महंगाई से परेशान है। दूसरी तरफ उद्योगपतियों को तीन सौ करोड़ का सौगात दिया जा रहा है। अभय ने उपस्थित लोगों से कहा कि यदि किसान के साथ अन्याय होगा तो कोई भी खुशहाल नहीं रह सकता है।

                           सभा को यात्रा प्रभारी पीनल उपवेजा ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि किसान न्याय यात्रा से सरकार में हड़कंप है। हम गांधी जी के पदचिन्हों पर चलते हुए एक दिन सरकार को सत्ता छोड़ने को मजबूर कर देंगे।

                किसान न्याय यात्रा का समामपन जयराम नगर में हुआ। इस मौके पर स्थानीय नेताओं के अलावा सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।सीपत आमसभा को मनोहर कुर्रे,ज्वाला प्रसाद चतुर्वेदी, भुवनेश्वर यादवा,दुबे सिंह कश्यप, ने भी संबोधित किया।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...