सांसद साव ने कहा..9 बजकर 9 मिनट में पेश करेंगे एकता की मिसाल..फंसे 400 छत्तीसगढ़ियों से सतत् सम्पर्क.. मंत्री से लेकर सांसदों ने दिया साथ

बिलासपुर— सांसद अरुण साव ने कोरोना संकट के अंधकार को चुनौती देने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपील का पुरजोर समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि 5 अप्रैल को रात्रि 9 बजे समूची सृष्टि को हमारी एकता के प्रकाश से परिचित कराना है।
 
सांसद साव ने क्षेत्रवासियों से अपील की है कि रविवार 5 अप्रैल को रात्रि 9 बजकर 9 मिनट के लिए अपने घरों की सभी लाइट को बंद कर दुनिया को एकता का परिचय दे।  दरवाजे या बालकनी पर खड़े रहकर मोमबत्ती, दीया, टार्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं। इस दौरान सोशल डिस्टेंशिंग का सभी विशेष रूप से पालन करें। कोई भी व्यकित किसी जगह एक साथ एकत्रित न हों। हमें मिलकर कोरोना संकट के अंधकार को चुनौती देनी है।
 
                       साव ने बताया कि वे लाॅकडाउन के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे छत्तीसगढ़ के लोगों की मदद करने लगातार सक्रिय हैं। बिलासपुर, मुंगेली के साथ ही जांजगीर, कवर्धा, बेमेतरा, दुर्ग, बलौदाबाजार के मजदूरों को ना केवल मदद किया जा रहा है। बल्कि सभी से सतत् सम्पर्क भी है।
 
              सांसद साव ने बताया कि अभी तक लखनऊ, कानपुर, इलाहाबाद, भोपाल, पुणे, अहमदनगर, दिल्ली, गुरुग्राम हरियाणा, हैदराबाद, मणिकुण्डा तेलंगाना, सिकंदराबाद, विजयवाड़ा आंध्रप्रदेश में फंसे छत्तीसगढ़ के करीब 400 मजदूरों के लिए भोजन  और ठहरने की व्यवस्था की गयी है। इसमें विशेष तौर पर केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री जी. किशनरेड्डी, सांसद गिरीश बापट, सत्यदेव पचौरी, रीता बहुगुणा, साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर, डॉ. सुजयं पाटिल का योगदान बहुत सराहनीय रहा है।
loading...
loading...

Comments

  1. By Chandrashekhar sahu

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...