किसान समस्या से भागे नहीं..लड़ें….जोगी

AMIT JOGIराजनांदगांव— मरवाही विधायक अमित जोगी ने  विधायकों के वेतन में की गयी अपने हिस्से की राशि को राजनांदगांव जिले के डोगरगांव ब्लॉक के ग्राम संबलपुर में आत्महत्या करने वाले दो किसानों को देने का एलान किया। मां बम्लेश्वरी के दर्शन के बाद पत्रकारों को अमित जोगी ने बताया कि अप्रैल माह के अपने बढे वेतन का आधा.आधा हिस्सा पीड़ित नों को देने जा रहे हैं।

                                 पत्र वार्ता के बाद अमित जोगी सीधे ग्राम संबलपुर गए। उन्होंने स्वर्गीय कृषक हिम्मतराम साहू की धर्मपत्नी कुंती बाई साहू और स्वर्गीय कृषक रामखिलावन साहू की धर्मपत्नी रामेश्वरी साहू से भेंट कर बढे हुए वेतन की राशि के साथ एक पत्र भी सौंपा । पत्र में अमित जोगी ने बताया है कि एक जनप्रतिनिधि होने के नाते वे अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रहे हैं। मैं मृतक परिवार के परिजनों को अप्रैल माह का बढ़ा हुआ वेतन सौंप रहा हूँ। इसे मेरी तरह से स्वीकार करें। मुझे आशीर्वाद दें कि मैं अपने कर्त्तव्य पथ पर चलते हुए छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़वासियों के हितों की रक्षा कर सकूँ।

                          मालूम हो कि विधानसभा बजट सत्र के दौरान अमित जोगी ने विधायक वेतन वृद्धि का विरोध किया था। उन्होने वेतन वृद्धि की वजाय सरकार से किसानों का बोनस देने की बात कही थी। उन्होने यह भी कहा था कि वे बढ़े हुए वेतन को नहीं स्वीकार करेंगे साथ ही अमित जोगी ने दुहराया था कि वे वेतन को त्याग कर  हर माह मिलने वाली वढ़ी हुई राशि को जनहित के कार्यों में लगाएंगे।

                              अमित जोगी ने आज वादे के अनुसार अपनी टीम के साथ राजनांद पहुंचकर पीड़ित मृतक किसान परिवार के परिजनों को वढ़े हुए वेतन का वितरण किया। पत्रकारों से चर्चा करते हुए जोगी ने राजनांदगांव में बताया कि मासिक वेतन की बढ़ी हुई राशि का उपयोग पानी के बंद पड़े स्त्रोतों को ठीक करने में लगाया जाएगा। कई ऐसे क्षेत्र हैं जहाँ वर्षों से बंद पड़े नलकूपों को मामूली सुधार से ठीक कराया जा सकता हैं।

किसान परिवार से मुलाकात के दौरान जोगी ने कहा कि मिट्टी से सोने जैसा धान्य पैदा करने वाले किसानों को स्वयं भगवान ने संवारा है।किसान कोई ऐसा कदम न उठाएं जिससे उनके पूरे परिवार को जीवन भर दुख सहना पड़े। मर कर किसी भी समस्या का समाधान नहीं होता है।  समस्या से लड़ें…भागे नहीं। आत्महत्या करने का विचार अपने अंदर से निकाल दें।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...