सियाराम ने दिया पोलावरम् विरोध में जोगी का साथ

6  3(12)रायपुर—छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी नेताओं ने मंगलवार को जगदलपुर से सुकमा होते हुए मलकानगिरी तक बस यात्रा की। यात्रा का नेतृत्व मरवाही विधायक अमित जोगी और धरमजीत सिंह ने किया।सोमवार की देर रात वरिष्ठ कांग्रेस विधायक सियाराम कौशिक ने भी पोलावरम परियोजना का विरोध किया। बस यात्रा में शामिल होकर विरोध का खुला समर्थन किया। इस दौरान मलकानगिरी में बीजेडी और छजकां  दोनों ही दलों के हजारों कार्यकर्ता मौजूद थे।

मलकानगिरी पहुंचने के बाद बस यात्रा संयुक्त सभा में तब्दील हो गयी। ओडिशा के बीजद सरकार में शहरी विकास मंत्री पुष्पेंद्र सिंहदेव और मलकानगिरी के बीजद विधायक मानस मडकामी ने धरमजीत सिंह और अमित जोगी का स्वागत किया। संयुक्त सभा को ओडिशा सरकार के मंत्री पुष्पेंद्र सिंहदेव विधायक मानस मडकामी और छजकां के धरमजीत सिंह मरवाही विधायक अमित जोगी और कांग्रेस विधायक सियाराम कौशिक ने संबोधित किया।

अमित जोगी ने सभा को ओड़िया में संबोधित किया। उन्होंने कहा किपोलावरम के विरोध में हम सब एक हैं। छत्तीसगढ़ और ओडिशा के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा।  भाजपा और कांग्रेस को ओडिशा और छत्तीसगढ़ के लोगों से कोई लेना देना नहीं है। अपने फायदे के लिए पोलावरम बना रहे हैं। दोनों तरफ के लोगों को डुबाना चाहते हैं।

                          4(14)    छत्तीसगढ़ विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष धर्मजीत सिंह ने मलकानगिरी कहा कि पोलावरम परियोजना का मामला सर्वोच्च न्यायालय में लंबित है। केंद्र सरकार ने इसे राष्ट्रीय परियोजना घोषित कर सभी खर्च वहन करने का आदेश जारी किया है। छत्तीसगढ़, तेलंगाना और ओडिशा तीनों राज्यों के प्रभावित लाखों लोगों के साथ अन्याय है । पोलावरम परियोजना बस्तर के एक बड़े हिस्से को न सिर्फ डूबा देगा बल्कि संरक्षित जनजातियों और खनिज संपदाओं का सर्वनाश होगा।

                       धरमजीत ने कहा कि छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी केंद्र सरकार से मांग करती है कि प्रभावित क्षेत्रों में तत्काल जनसुनवाई की व्यवस्था की जाए। पोलावरम परियोजना के प्रभावित क्षेत्रों में पर्यावरण और सामाजिक प्रभाव का सही आंकलन हो ।

                              कांग्रेस विधायक सियाराम कौशिक ने कहा कि मैं पहले छत्तीसगढ़िया हूँ। छत्तीसगढ़ का हित और यहाँ के लोगों का भविष्य मेरी पहली प्राथमिकता है । 45 हज़ार बस्तरवासियों के सर्वनाश होने से रोकने के लिए दलगत निष्ठा से ऊपर उठकर पोलावरम परियोजना के विरुद्ध एक साथ मिलकर लड़ने की आवश्यकता है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नेता प्रतिपक्ष और साथी कांग्रेसी विधायकों से अपील करते हुए सियाराम ने कहा कि दिल्ली के दबाव से न डरें।  बस्तरवासियों के हित में पोलावरम के विरुद्ध आवाज़ उठाएं।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...