थाणें में पकड़ाया बिलासपुर का नटवर लाल

IMG-20170215-WA0712बिलासपुर— बिलासुपर पुलिस ने धोखाधडी के आरोपी आशुतोष श्रीवास्तव को केन्द्रीय जेल था़डें महाराष्ट्र से प्रोडक्शन वारंट पर हिरासत में लिया है। आरोपी के तारबाहर पुलिस ने कोर्ट में पेश करने के बाद रिमाण्ड मे लिया है। पुलिस को भरोसा है कि फरार आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस के अनुसार  आशुतोष पर रेलवे में नौकरी लगाने के नाम लाखों रूपए ठगने का आरोप है।

             बिलासपुर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आवेदक कैलाश श्रीवास्तव ने तारबाहर थाने में आशुतोष श्रीवास्तव के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया था। आशुतोष ने शिकायत कर्ता से रेलवे कैटरिंग का ठेका दिलाने 12 लाख रूपए लिया। आशुतोष ने परिवार के सदस्यों को रेलवे में नौकरी लगाने के लिए धर्मेन्द्र सिंह से 17 लाख रूपए लिए। लेकिन नौकरी नहीं मिली।

                   मुम्बई से महेश की सूचना पर तारबाहर पुलिस ने आशुतोष श्रीवास्तव को थाणें केन्द्रीय जेल से हिरासत में लिया। पुलिस के अनुसार आशुतोष श्रीवास्तव अपने दो अन्य साथियों मंयक पाण्डेय और हरीश राव के साथ लाखों रूपए की ठगी की है। फिलहाल आशुतोष के दोनों साथी पुलिस गिरफ्तर से दूर हैं।

                    पुलिस अधिकारी ने बताया कि आशुतोष श्रीवास्तव पिता मनोज श्रीवास्तव पटना का रहने वाला है। महाराष्ट्र पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप में उसे अंधेरी से गिरफ्तार किया था। बिलासपुर पुलिस ने सामान बरामदगी और अन्य फरार आरोपियों की जारनकारी के लिए आशुतोष को कोर्ट में पेश करने के बाद रिमाण्ड में लिया है।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...