सरकार की वादाखिलाफी – 9 सूत्रीय माँगों को लेकर, अपनी आवाज बुलंद करेंगे शिक्षाकर्मी, तैयारी शुरू

shikshak_sanghरायपुर।30 अक्टूबर को एक बार फिर शासन के वादाखिलाफी के खिलाफ और अपने अधिकार,हक व सम्मान की प्राप्ति के लिए प्रदेश के 1 लाख 80 हजार शिक्षक पंचायत संवर्ग अपने हक की लड़ाई मे विकास खंड मुख्यालयो मे अपनी आवाज बुलंद करेंगे।शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय मोर्चा के बैनर तले प्रदेश के 146 विकास खंडो मे धरना-प्रदर्शन और रैली कर ज्ञापन सौंपा जाएगा।सहायक शिक्षक पंचायत,शिक्षक पंचायत व व्याख्याता पंचायत, तीनो शिक्षक पंचायत संवर्गो के हित मे 9 सूत्रीय मांग को लेकर संघर्ष का आगाज विकास खंड मुख्यालयो मे होगा।मोर्चा की प्रमुख मांगो मे समान कार्य हेतु समान वेतन के आधार पर समस्त शिक्षक पं/न नि संवर्ग को शिक्षा व् आजा क वि में संविलियन, /शासकीयकरण करते हुवे क्रमोन्नति वेतनमान पर सातवाँ वेतनमान दिया जाए।साथ ही समस्त शिक्षक संवर्ग के लिए दो स्तरीय क्रमोन्नति/समयमान वेतनमान जारी किया जावे।सहायक शिक्षक वर्ग को व्याख्याता,शिक्षक के अंतर के अनुपात में समानुपातिक वेतनमान दिया जावे।

                                         अप्रशिक्षित शिक्षक संवर्ग के लिए प्रशिक्षण की पूर्ण व्यवस्था करते हुये,वर्तमान में उन्हें नियमित करते हुवे समयमान वेतनमान व् पुनरीक्षित वेतनमान का लाभ दिया जाए साथ ही वेतनमान कटौती न किया जाए।केबिनेट निर्णय का पालन करते हुवे शिक्षक संवर्ग को वरिष्ठता के आधार पर प्राचार्य,प्रधान पाठक के पद पर पदोन्नति किया जाए।व्याख्याता,व्यायाम शिक्षक,उर्दू शिक्षको के पदोन्नति के लिए प्रावधान बनाकर पद स्वीकृत किया जावे।

                                           समग्र वेतन(मूल वेतन,महगाई भत्ता ) में सी पी एफ कटौती,व् 2004 के पूर्व नियुक्त शिक्षको की जी पी एफ कटौती किया जावे।प्रदेश के अन्य कर्मचारियो व् शिक्षको के समान शिक्षक संवर्ग के लिए खुली स्थानांतरण नीति बनाया जावे।TET और डी एड के बिना अनुकम्पा नियुक्ति का प्रावधान कर न्यनतम योग्यता के अभाव में चतुर्थ वर्ग पर भी अनुकम्पा नियुक्ति दिया जावे।

Comments

  1. Reply

  2. By Bhupendra Kumar

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *