रिटायर हुए राउत,बोले-हमें नहीं डरना चाहिए चुनौतियों से

4DDCF4A440980CC1BEB331CC2740993Bरायपुर।पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव एम.के. राउत को उनकी सेवानिवृत्ति पर मंत्रालय में अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने भावभीनी विदाई दी गई। इस अवसर पर उन्हें सचिव पी.सी. मिश्रा ने प्रतीक चिन्ह भेंट कर उनके सुखद एवं दीर्घ जीवन के लिए कामना की।

विदाई कार्यक्रम में श्री राउत ने छत्तीसगढ़ में विभिन्न पदों पर रहते हुए अपने कार्यकाल के अनुभव साझा किए। उन्होंने कहा कि हमें चुनौतियों से नहीं डरना चाहिए। उन्हें स्वीकार कर विजय हासिल करने की कोशिश करना चाहिए। उन्होंने अधिकारियों एवं कर्मचारियों से कहा कि बड़े सपने देंखे और उन्हें पूरा करने के लिए काम करें।अपर मुख्य सचिव ने राज्य निर्माण के समय रायपुर में राजधानी के लिए सभी व्यवस्था जुटाने के लिए युद्धस्तर पर किए गए काम को याद किया।

उन्होंने कहा कि 40 दिनों में रायपुर में राजधानी के लिए जरूरी इंतजाम करना चुनौती पूर्ण काम था। श्री राउत ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा स्वच्छ भारत मिशन के लिए प्रदेश में व्यापक स्तर पर किए गए कार्यों और करीब दो लाख जनप्रतिनिधियों की हिस्सेदारी वाले हमर छत्तीसगढ़ योजना की तैयारियों को भी याद किया।उन्होंने अपने साथ काम किए सभी अधिकारियों-कर्मचारियों के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि उनके सहयोग से ही वे अपने शासकीय कर्तव्यों का निर्वहन सफलतापूर्वक कर पाएं है।

विदाई कार्यक्रम में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के सचिव पी.सी. मिश्रा, छत्तीसगढ़ सड़क ग्रामीण विकास अभिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी राकेश चुतर्वेदी, स्वच्छ भारत मिशन के मिशन संचालक भास्कर विलास संदीपन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के उप सचिव शिव अनंत तायल, संचालक तारण प्रकाश सिन्हा, राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के संचालक दीपक सोनी, रायपुर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी निलेश क्षीरसागर, राज्य पंचायत एवं ग्रामीण विकास संस्थान के निदेशक एम. मणिवासन, अपर विकास आयुक्त एवं हमर छत्तीसगढ़ योजना के नोडल अधिकारी सुभाष मिश्रा और मंत्रालय के रजिस्टार बी.एस. कुशवाहा सहित मंत्रालय एवं संचालनालय के अनेक अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *