कांग्रेस के कहा प्रदेश में गुंडाराज

IMG-20150721-WA0009बिलासपुर— कल भूपेश बघेल के घर पर भाजपाइयों के आक्रोश और नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव के साथ हुए घटनाक्रम से आक्रोशित कांग्रेसियों ने आज नेहरू चौक पर मुख्यमंत्री का एक बार फिर पुतला फूंका। कल देर रात भी कांग्रेसियों ने नेहरू चौक पर प्रदेश सरकार का पुतला फूंका था।

                      मालूम हो कि कल रायपुर में भाजपाइयों ने भूपेश बघेल के घर पर धावा बोलते हुए साडा जमीन मामले में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था। नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंह देव के साथ झूमाझटकी और स्याही फेंका था। आज जिला कांग्रेस ने इस आचरण का विरोध करते हुए नेहरू चौक पर एकत्रित होकर रमन सिंह और प्रदेश का पुतला फूंका।

                        वरिष्ठ कांग्रेस नेता आशीष सिंह ने प्रदेश सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि नान घोटाले को दबाने के लिए रमन सिंह ने गुंडागर्दी का सहारा लिया  है। जब भ्रष्टाचार की पोल जब परत दर परत खुलने लगी तो डॉ.डाक्टर अपने गुर्गों के सहारे पीसीसी अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष पर कातिलाना हमला किया है। लेकिन कांग्रेस ऐसे सरकारी गुंडों से निपटना जानती है। 36 हजार करोड़ रूपए गया कहां रमन सिंह को जनता को हिसाब देना ही होगा।

                               जिला ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला ने बताया कि चाउर वाले बाबा अब किसानों के घर डाका डालना शुरू कर दिया है। जब मामला सामने आ गया तो दादागिरी का धंधा भी शुरू कर दिया है। हम प्रशासन के गुंडो से डरने वाले नहीं है। लेकिन कल रायपुर में जो कुछ हुआ उससे जनता वाकिफ हो चुकी कि प्रधान सेवक के चेले किसानों और गरीबों के घर में घुसकर चावल.चना की लूटपाट कर रहे है।

                   अटल श्रीवास्तव ने कहा कि रमन सिंह अपने पाप को छिपाने के लिए पीसीसी अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष को जान से मारने के लिए घातक हथियार के साथ गुंडों को भेजा था। जाहिर सी बात है कि अब इस प्रदेश में गुंडाराज चल रहा है। अब तो लोगों को समझ में आ ही गया होगा कि भाजपा का चाल चरित्र चेहरा कितना घिनौना है।

                     पुतला दहन के दौरान पुलिस और कांग्रेस नेताओं में जमकर झूमाझटकी हुई। इस दौरान कांग्रेसियों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाला। कांग्रेस का झंडा भी जमकर फहराया। पुतला दहन के दौरान निगम नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन,नरेन्द्र बोलर,रिषी पाण्डेय समेत कांग्रेस कई वरिष्ठ नेता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *