शिक्षाकर्मी फेडरेशन ने दिया 20 सितंबर तक का अल्टिमेटम,आंदोलन की चेतावनी

राजनांदगांव।आज जिला मुख्यालय में “छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन” जिला इकाई की अति-आवश्यक बैठक सम्पन्न हुई जिसमें फेडरेशन आंदोलन समति के ‘प्रदेश अध्यक्ष’ ‘मनीष मिश्रा’ विशेष रूप से उपस्थित थे। उन्होंने बैठक में उपस्थित जिला बॉडी एवं सभी नौ विकासखण्डों के सदस्यों को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार यदि आगामी 20 सितम्बर तक फेडरेशन की मांगें नहीं मानी तो 21 सितम्बर के बाद प्रदेश भर अब तक का सबसे आक्रामक, उग्र, ऐतिहासिक और अभूतपूर्व आंदोलन किया जाएगा। सारे स्कूलों में तालेबंदी करके प्रदेशभर के सभी एक लाख, नौ हजार सहायक शिक्षक एलबी / पंचायत संवर्ग अनिश्चिचित कालीन आंदोलन में चले जाएंगे।

मनीष मिश्रा ने राज्य सरकार को स्पष्ट शब्दों में चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार फेडरेशन के सब्र की परीक्षा न लें। अभी तक फेडरेशन ने विद्यार्थियों के हित को देखते हुए अनिश्चिचित कालीन आंदोलन तो टालते आया है लेकिन सरकार उनकी मांगों को लेकर गम्भीर नजर नहीं दिख रही है ऐसे में हमें अब बड़े आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ रहा है।
उल्लेखनीय है कि फेडरेशन विगत दिनों अपनी चार सूत्रीय मांगों को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से मिल चुका है फिर भी अभी तक सरकार के तरफ से कोई सकारात्मक रुख देखने को नहीं मिल रहा है।
“फेडरेशन” के जिला अध्यक्ष शंकर साहू ने बताया कि जिले में सीघ्र ही फेडरेशन की महिला बॉडी का गठन सर्वसम्मति से किया जाएगा। उन्होंने जिले के सभी छह हजार वर्ग 03 के शिक्षाकर्मियों को बड़े आंदोलन के लिए मानसिक रूप से तैयार रहने को कहा।
प्रांतीय संयोजक जाकेश साहू, प्रांतीय सह संयोजक राजकुमार यादव, प्रांतीय कार्यकारिणी सदस्य अजय राजपूत, जिला संयोजक विकास मानिकपुरी, छन्नू लाल साहू, मिलन साहू, महिला प्रतिनिधि त्रिसंघ्या कांडे, नेहा खण्डेलवाल, प्रेमलता शर्मा आदि ने जिला बैठक को सम्बोधित किया।
बैठक में संदीप लाटा, देव्कुमार यादव, मोहन कोमरे, राजू यादव, रोशन साहू, भक्ता राम मंडावी, हिरेन्द्र शर्मा, कृष्ना वैद्य, राकेश साहू, गांधी राम साहू, तुलेश्वर सेन, कौशल श्रीवास्तव सहित जिला एवं ब्लाक कार्यकारिणी के सभी सदस्य बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...