देश में मंदी के बावजूद ऑटोमोबाइल सेक्टर में सर्वाधिक वृद्धि दर वाले राज्यों में छत्तीसगढ़ पूरे देश में अव्वल,13 प्रतिशत की वृद्धि

रायपुर।देश में मंदी का माहौल है लेकिन छत्तीसगढ़ में ऑटोमोबाइल सेक्टर में सर्वाधिक वृद्धि दर दर्ज की गई है।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किसानों की कर्ज माफी और 2500 रूपए प्रति क्विंटल धान का मूल्य देने के साथ ही लिये गए अन्य फैसलों से छत्तीसगढ़ के बाजारों में रौनक है। इसका सीधा असर ऑटोमोबाइल सेक्टर में भी दिख रहा है।

आर्थिक जगत के देश के प्रमुख अखबार इकोनॉमिक्स टाइम्स द्वारा देश के विभिन्न राज्यों में ऑटोमोबाइल सेक्टर के संबंध में जारी किये गए एनलिसिस में छत्तीसगढ़ पूरे देश में अव्वल है।

एनलिसिस के अनुसार इस वर्ष अप्रैल से लेकर सितंबर माह तक ऑटोमोबाइल सेक्टर में देश के सभी राज्यों में सर्वाधिक वृद्धि दर छत्तीसगढ़ में दर्ज की गई है। छत्तीसगढ़ में इस अवधि में ऑटोमोबाइल सेक्टर में 13 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गई है। छत्तीसगढ़ में सभी प्रकार के वाहनों के आरटीओ में रजिस्ट्रेशन में 13 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

छत्तीसगढ़ के बाद सर्वाधिक वृद्धि पश्चिम बंगाल में 7 प्रतिशत, बिहार और असम में 4 प्रतिशत, जम्मू-कश्मीर और हरियाणा में 2-2 प्रतिशत तथा राजस्थान में एक प्रतिशत वृद्धि ऑटोमोबाइल सेक्टर में दर्ज की गई है।

इकोनॉमिक्स टाइम्स के आकलन के अनुसार इस वर्ष माह अप्रैल से सितंबर तक ऑटोमोबाइल सेक्टर में सर्वाधिक 19 प्रतिशत गिरावट गोवा में, इसके बाद 14 प्रतिशत गिरावट महाराष्ट्र में, दिल्ली, पंजाब और उत्तराखंड राज्यों में 13 प्रतिशत की गिरावट, झारखंड और गुजरात में 11 प्रतिशत, तमिलनाडु में 10 प्रतिशत, कर्नाटक में 8 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। इसी प्रकार ओड़ीशा में 6 प्रतिशत की गिरावट और हिमाचल प्रदेश में 2 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *