कलेक्टर मुंगेली का अनूठा फरमान…नहीं लगेगा बाजार शुल्क…भूरे ने कहा…नाफरमानो पर होगी सख्त कार्रवाई

बिलासपुर— दीपावली महापर्व के मद्देनजर कलेक्टर मुंगेली डॉ.भूरे ने कुम्भकार समाज के लिए बडा फैसला लिया है। कलेक्टर ने आदेश जारी कर कहा कि मिट्टी के दीए बनाकर बाजार में बेचने वाले किसी भी दुकानादार से टैक्स नही लिया जाएगा। कलेक्टर आदेश की जानकारी को निगम प्रशासन के साथ नगर पंचायत प्रशासन को भी जारी किया गया है।

                     दीपावली महापर्व नजदीक है। घरों में पर्व के स्वागत को लेकर जमकर तैयारियां हो रही है। ग्राहकों के स्वागत में बाजार भी सजकर तैयार हो गया है। घर को जगमग करने बाजार मेें इलेक्ट्रिक झालर की जमकर बिक्री होने लगी है। इसी क्रम में जमीन से जुड़े मुंगेली कलेक्टर ने मिट्टी के दिए बनाने वाले कुम्हारों के हित में  में बड़ा फैसला लिया है।

                          कलेक्टर ने कुम्हारों के हितों और पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए अनोखा फरमान जारी किया है। अपने आदेश में कलेक्टर ने कहा है कि मिट्टी के दिी बनाने और बेचने वाले दुकानदारों से किसी प्रकार का बाजार शुल्क नहीं लिया जाएगा।

                नगर पंचायत और नगरपालिका को जारी आदेश में कलेक्टर डॉ.भूरे ने बताया है कि मिट्टी के दीया बनाने वाले कलाकारों को दुकान लगाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। साथ ही मि्ट्टी के दिए बनाकर दुकान लगाने वाले किसी भी दुकानदार से जिला प्रशासन ने शुल्क नहीं लेने का फैसला किया है।   इसके अलावा पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए लोगों को मिट्टी का दीया उपयोग करने को भी कहा है।

                  कलेक्टर ने बताया कि आदेश का अमल करना सबके लिए अनिवार्य है। किसी प्रकार की शिकायत मिलने पर सख्त कार्रवाई होगी। मिट्टी का दीया बनाने वालों को बाजार कर नहीं लगेगा। इससे कुम्हार और कलाकारों को ज्यादा मुनाफा होगा। मिट्टी का दीया उपयोग से पर्यावरण को भी कम से कम नुकसान होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *