सूचना देने वाले को इनाम 10,000… फरार ठेकेदार के खिलाफ पुलिस कप्तान का एलान…गुप्त रहेगा नाम

बिलासपुर— पुलिस कप्तान ने फरार ठेकेदार अतुल शुक्ला के खिलाफ इनाम दस हजार का एलान किया है। इसके साथ ही एसपी ने आश्वासन भी दिया है कि आरोपी की सूचना देने वाले या गिरफ्तारी में मदद करने का नाम गुप्त रखा जाएगा।
           
                       जानकारी हो कि ठेकेदार अतुल शुक्ला पिता सुदामा शुक्ला पर आरोप है कि उसने  भाड़े के गुण्डो और अपने कर्मचारियों से निगम इंजीनियर पी.के.पंचायती पर जानलेवा हमला कराया है। घटना के समय पंचायती मार्निंग पर वाक पर थे। उसी दौरान अतुल शुक्ला के गुंडो ने जानलेवा हमला किया। मामले की शिकायत सिविल लाइन पुलिस में हुई। पुलिस ने महीनों खोजबीन के बाद तीन आरोपियों को धर दबोचा। पूछताछ के दौारन तीनों आरोपियों ने ना केवल जुर्म स्वीकार किया। बल्कि जानकारी भई दी कि पी.के.पंचायती पर जानलेवा हमला करने का आदेश ठेकेदार अतुल शुक्ला ने दिया है।
     
                         तीनों आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद सिविल लाइन समेत बिलासपुर की पुलिस फरार ठेकेदार और अतुल शुक्ला और उसके साथी तापस अग्रवाल की तलाश कर रही है। लगातार प्रयास के बाद भी फरार आरोपियों की जानकारी नहीं मिली है।
 
                        एडिश्नवल एसपी ओम प्रकाश शर्मा ने बताया कि फरार आरोपी अतुल शुक्ला पर सिविल लाइन थाने में धारा 307, 341, 120 (बी) 34 आईपीसी के तहत अपराध दर्ज है। शुक्ला के ही इशारे पर निगम इंजीनियर पी.के. पंचायती पर तापस अग्रवाल, विकी पांडे, अमर साहू और विपिन विश्वकर्मा  से जानलेवा हमला किया। पुलिस ने विक्की पाण्डेय, अमर साहू और विपिन विश्वकर्मा को गिरफ्तार किया है। जबकि तापस अग्रवाल और हमला का मास्टर माइंड अतुल शुक्ला फरार है। 
 
                       पुलिस कप्तान कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार फरार आरोपी के खिलाफ लगातार तलाशी अभियान चलाया गया। बावजूद इसके आरोपी को पकड़ने में कामयाबी नहीं मिली। तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए पुलिस कप्तान ने अतुल शुक्ला की सूचना देने वाले या गिरफ्तारी मैें सहयोग करने वाले को दस हजार रूपए का ईनाम घोषित किया है। 
 
                    जानकारी हो कि फरार आरोपी अतुल शुक्ला पिता सुदामा शुक्ला उम्र 46 वर्ष ग्रीन पार्क कॉलोनी थाना सिविल लाइन का रहने वाला है। जबकि तापस अग्रवाल पिता संतोष अग्रवाल उम्र 40 वर्ष भारती नगर का निवासी है।
 
                    पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल ने गिरफ्तारी के तमाम असफल प्रयासों को देखते हुए छत्तीसगढ़ पुलिस रेगुलेशन के 80 (ए) के तहत फरार आरोपी के बारे में सूचना या गिरफ्तारी में सहयोग करने वालों के लिए ईनाम 10000 रूपए का एलान किया है। 
 
 
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...