मुख्यमंत्री से छत्तीसगढ़ कर्मचारी-अधिकारी फेडरेशन के प्रतिनिधिमंडल ने की मुलाकात,अनुकंपा नियुक्ति में शिथिलीकरण के लिए जताया आभार

रायपुर-मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज शाम यहां उनके निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ कर्मचारी-अधिकारी फेडरेशन के प्रतिनिधियों ने प्रांतीय संयोजक श्री कमल वर्मा के नेतृत्व में मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने इस दौरान राज्य सरकार द्वारा हाल ही में शासकीय कर्मियों के हित में अनुकंपा नियुक्ति संबंधी लिए गए ऐतिहासिक निर्णय की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री के प्रति आभार जताया और उनका अभिनंदन किया। गौरतलब है कि राज्य सरकार द्वारा अनुकंपा नियुक्ति हेतु तृतीय श्रेणी के पदों पर 10 प्रतिशत सीमा बंधन को 31 मई 2022 तक शिथिल करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है।मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि राज्य सरकार शासकीय सेवकों के दुःख-सुख हर घड़ी में उनके साथ खड़ी है। प्रदेश में शासकीय सेवक कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए दिन-रात कार्य कर रहे हैं। इस वैश्विक महामारी से प्रदेश के कई शासकीय सेवकों की मौत भी हुई है इसका हम सभी को बहुत दुःख है।

इसको ध्यान में रखते हुए हमने कर्मचारियों के हित में अनुकंपा नियुक्ति के संबंध में निर्णय लेकर उन्हें हर संभव राहत पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं। इस दौरान प्रतिनिधिमंडल द्वारा भी राज्य सरकार के इस महत्वपूर्ण फैसले को कर्मचारी हित में महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में कर्मचारियों को राहत पहुंचाने में यह निर्णय काफी मददगार साबित हुआ है। इस दौरान हाल के अनुकंपा में नियुक्त सर्वश्री कल्याण तिवारी, सैय्यद रफत अली, तोमेश्वर साहू ने भी प्रतिनिधिमंडल के साथ मुख्यमंत्री का आभार जताया। इस अवसर पर प्रतिनिधिमंडल में आर.के. रिछारिया, विजय झा, राजेश चटर्जी, बी.पी. शर्मा, चंद्रशेखर तिवारी, संजय सिंह, राकेश शर्मा, पंकज पांडेय, अश्वनी चेलक, सतीश मिश्रा, यशवंत वर्मा, सलीम खान और तथा रामसागर कोसले सहित अन्य प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *