हमार छ्त्तीसगढ़

समीक्षा बैठक में तीन ठेकेदारों को अंतिम नोटिस

कोंडागांव।गुरूवार को कलेक्टर दीपक सोनी द्वारा जल जीवन मिशन कार्य को तीव्र गति से पूर्ण करने हेतु कार्यरत ठेकेदारों की समीक्षा बैठक आहुत की गयी। इस बैठक में कलेक्टर ने ग्रामवार योजनाओं पर चर्चा करते हुए प्रत्येक ग्राम में जल जीवन मिशन की प्रगति के संबंध में ठेकेदारों के साथ अधिकारियों से भी समन्वयित चर्चा की। जिसमें उन्होने किसी गांव में किसी कारण से कार्य प्रगति में आ रही बाधाओं के संबंध में जानकारी लेते हुए संबंधित अधिकारियों को तुरंत निराकरण के निर्देश दिये जिसमें कई स्थानों पर बोर हेतु स्थल चयन, विद्युत कनेक्शन, सोलर योजना के पम्पों की स्थापना, ग्राम सभा द्वारा सहमति प्राप्त न होने आदि समस्याओं पर चर्चा करते हुए विभागीय अधिकारियों के द्वारा समस्याओं के निराकरण हेतु लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये।

कुछ स्थानों पर भूमि की उपलब्धता न होने की स्थिति पर जनपद पंचायत की सहायता से भूमि उपलब्ध करा कर योजना के संचालन को कहा। इस दौरान उन्होने ठेकेदारों को कहा कि कोण्डागांव में वर्तमान में 91000 एफएचटीसी का लक्ष्य रखा गया है। जिसे वर्ष 2023 में पूर्ण किया जाना है। जबकि हमारे जिले में सभी 1.24 लाख परिवारों तक योजना अनुसार 2024 तक नल कनेक्शन पहुंचाने का लक्ष्य है। जिसे सभी को मिलकर सितम्बर 2023 तक पूर्ण करना है।

इसके लिए आवश्यक है कि योजना में गुणवत्ता पूर्ण ध्यान रखा जाये साथ ही योजना के संचालन हेतु स्थानीय युवाओं को प्रशिक्षित कर उन्हे पम्प ऑपरेटर एवं प्लम्बर के रूप  में रोजगार प्रदान किया जाये ताकि योजना में ठेकेदार द्वारा निर्माण उपरांत 06 माह तक संचालन उपरांत भी योजना बेहतर रूप से संचालित होती रहे। इसके लिए उन्होने आईएसए समन्वयकों को प्रत्येक ग्राम हेतु सामुदायिक सहभागिता राशि के निर्धारण के समय उपयुक्त राशि के निर्धारण के निर्देश दिये ताकि योजना के संचालन हेतु होने वाले आर्थिक व्ययो को सफलता पूर्वक पूर्ण किया जा सके।

CHHATTISGARH: बीजापुर नक्सली हमले में आ रहा नंबर वन मोस्ट वांटेड हिड़मा का नाम,पहले भी बस्तर में इन वारदातों को अंजाम दे चुका है हिड़मा

इस दौरान कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के कार्यों निर्माण में विलम्ब करने वाली 03 फर्मों को कार्यों को तीव्र गति से करवाने हेतु अंतिम नोटिस देते हुए उसके पश्चात भी कार्य न करने पर फर्मों की निविदा निरस्त कर ब्लैक लिस्टेड करने के निर्देश दिये। इसके अतिरिक्त 05 फर्मों पर धीमी गति से कार्य करने पर पेनाल्टी लगाते हुए उन्हे तीव्र गति से कार्य करने के निर्देश दिये। इसके अलावा क्रेडा विभाग को जल्द से जल्द स्वीकृत परियोजनाओं को पूर्ण करने को कहा। उन्होने आईएसए एजेंसियों को गांव-गांव जागरूकता अभियान चला कर पेय जल के उपयोग, सामुदायिक सहभागिता राशि के निर्धारण एवं योजना के संबंध में जानकारी प्रदान कर इसे जन आंदोलन के रूप में आगे बढ़ाने को कहा। इस अवसर पर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियांता हरि सिंह मरकाम, एसडीओ विरेन्द्र पाण्डे सहित सभी उप अभियंता, आईएसए एजेंसियों के प्रतिनिधि तथा सभी ठेकेदार उपस्थित रहे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS