राजस्व प्रशिक्षण कार्यशाला संपन्न…नक्शा मिलान,प्लाट साईज़ निर्धारण,प्लाट चयन के साथ ही राजस्व मामलों का तेजी से निराकरण के निर्देश

बिलासपुर।कलेक्टर सौरभ कुमार के आदेशानुसार अतिरिक्त कलेक्टर आर.डी. कुरुवंशी के मार्गदर्शन में आज एक प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन,जल संसाधन कार्यालय परिसर में स्थित प्रार्थना सभा भवन में किया गया। अधीक्षक भू-अभिलेख शशिभूषण सोनी द्वारा विषय विशेषज्ञ सहायक अधीक्षक बी एस कंवर , ऋचा गुप्ता , एस के पाठक , राजस्व निरीक्षक अशोक कुमार सोनी , होमेश्वर सिंह तकनीकी सहायक खुमान बिहारी राजपूत , मनीष तिवारी की टीम गठित करते हुये बिलासपुर जिले के समस्त राजस्व निरीक्षकों एवं हल्का पटवारियों को स्वामित्व योजनांतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी भूमि का सर्वेक्षण कर, काबिज लोगो को स्वामित्व अधिकार दिलाये जाने हेतु, नक्शा तैयार करने ,एम एल फ़ाइल तैयार करने , चूना मार्किंग , ड्रोन सर्वे , सर्वे ऑफ इंडिया द्वारा मैपिंग की प्रक्रिया एवं कार्यों का विस्तारपूर्वक विवरण व प्रशिक्षण दिया गया।

प्रदेश में फसल उत्पादन की सही गणना हेतु फसल कटाई प्रयोग हेतु, ऑनलाइन निर्धारित एप से त्रुटिरहित फसल कटाई के प्रयोग में रैंडम नंबर के माध्यम से प्लाट का चयन , प्लाट के साइज का निर्धारण सहित मौके पर आने वाली समस्याओं के समाधान हेतु विस्तारपूर्वक बताया गया।

राज्य शासन अनवरत राजस्व मामलों में उत्पन्न विवाद को कम करने हेतु प्रयासरत है जिसमे जिओ रेफरेंस के माध्यम से सभी ग्रामों में विवादमुक्त स्थल का चयन कर उन्हें ऑनलाइन नक्शे से मिलान की प्रक्रिया किया जा रहा है, इस हेतु भी विस्तार से प्रशिक्षित किया गया।

इसके साथ ही अतिरिक्त कलेक्टर रामाधारी कुरुवंशी ने सभी राजस्व निरीक्षकों एवं हल्का पटवारियों को राजस्व मामलों के उचित निराकरण हेतु समय पर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने , उचित सीमांकन करने तथा आम जनता के कार्यों के निपटारे में तीव्रता लाने के निर्देश दिए गए।इस दौरान अधीक्षक शशिभूषण सोनी ने पूरे प्रशिक्षण सत्र में दोनों ओर से प्रश्नोत्तर शैली में प्रशिक्षण सहपरिचर्चा को अत्यंत प्रभावशाली बनाया गया।जानकारी विदित हो यह महत्वपूर्ण कार्य लंबे अंतराल के पश्चात संपन्न कराया गया है, जिससे प्रशिक्षण प्राप्त सभी राजस्व कर्मियों में हर्ष व्याप्त है एवं इस तरह के प्रशिक्षण कार्यक्रम को आवश्यक बताया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *