मारपीट के खिलाफ लिपिकों का राजस्व विभाग को खुला समर्थन..लिपिक नेता ने कहा..रायपुर में करेंगे जंगी प्रदर्शन..आरोपियों पर कार्रवाई की मांग

बिलासपुर— लिपिक संघ नेता सुनील यादव ने रायगढ़ में राजस्व अधिकारी और कर्मचारी के साथ मारपीट की घटना को लेकर प्रदर्शन का एलान किया है। सुनील यादव ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि राजस्व न्यायलयो में काम करने वाले अधिकारी और कर्मचारियों की सुरछा व्यवस्था सुनिश्चित किया जाए। सुनील यादव ने वकीलों पर कानून को हाथ में लेने का भी  आरोप लगाया। उन्होने कहा कि दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। 
 
                       जानकारी देते चलें कि रायगढ़ तहसील में दो दिन पहले वकीलों ने राजस्व अधिकारी और लिपिकों के साथ मारपीट की घटना को अंजाम दिया। इस दौरान वकीलों ने कानून को हाथ में लेकर व्यवस्था की धज्जियों को तार तार किया। 
 
          मामले में लिपिक कर्मचारी नेता प्रदेश महामंत्री सुनील यादव ने बताया कि किसी भी वर्ग सम्प्रदाय या संघ को कानून को हाथ में लेने का आधिकार नहीं है। बिलासपुर जिले के पदाधिकारियों ने बैठक कर घटना के खिलाफ और आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन का फैसला किया है।
 
           लिपिक कर्मचारी नेता ने प्रेस नोट के माध्यम से जानकारी साझा किया। उन्होने कहा कि बैठक के दौरान संगठन के सभी सदस्यों ने घटना की निंदा की है। राजस्व विभाग के आंदोलन को समर्थन का फैसला भी किया है। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष रोहित तिवारी ने प्रदेश महामंत्री ने संयुक्त बयान में कहा कि सोमवार को नेहरू चौक 11 बजे से आयोजित धरना प्रदर्शन में जिले के सभी लिपिक शामिल होंगे। 15 फरवरी को रायपुर में जंगी प्रदर्शन करेंगे। पीड़ितों को न्याय दिलाने के अलावा कानून को हाथ में लेने वालों के खिलाफ शासन से भावनाओं को अवगत भी कराएंगे।
 
               प्रदर्शन के दौरान शासन से  प्रदेश के सभी राजस्व न्यायलय और शासकीय दफ्तरों में सुरक्षा व्यवस्था की मांग करेंगे। इसके अलावा रायगढ़ की घटना में शामिल व्यक्तियों पर त्वरित कार्यवाही की आवाज उठाएंगे।
 
       लिपिकों की बैठक में मुख्य रूप से रोहित तिवारी, सुनील यादव, हेमंत बघेल, जितेंद्र मिश्रा, सूर्य प्रकाश कश्यप, अरविंद गहवई, सौरभ मजूमदार,प्रदीप तिवारी,देवेंद्र पटेल के साथ अन्य लिपिक वर्गीय कर्मचारी उपस्थित हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *