भड़के कलेक्टर,औचक निरीक्षण के दौरान ड्यूटी पर नहीं मिले डॉक्टर

धमतरी-कलेक्टर पी.एस. एल्मा ने आज विकासखण्ड मुख्यालय नगरी में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने ड्यूटी से गायब रहने वाले चिकित्सकों को तत्काल तलब करने के निर्देश दिए, साथ ही अस्पताल के अंदरूनी कमरों और बाह्य परिसर में पूरी तरह स्वच्छता बरतने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने सम्पूर्ण अस्पताल का सघन निरीक्षण कर आवश्यक निर्देश दिए। इसके अलावा जिले के सीमावर्ती ग्राम बोरई में स्थित लघु वनोपज जांच नाका का भी औचक निरीक्षण कर टोल कर्मियों को सजगता के साथ ड्यटी करने के लिए निर्देशित किया।

आज सुबह  11.30 बजे कलेक्टर एल्मा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नगरी पहुंचे, जहां पर उन्होंने सबसे पहले उपस्थिति पंजी का निरीक्षण किया। इस दौरान कतिपय डॉक्टर ड्यूटी पर नहीं मिले, जिस पर कलेक्टर ने नाराजगी जाहिर करते हुए अनुपस्थित चिकित्सक को तत्काल बुलवाने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि दूरस्थ वन क्षेत्र में निवासरत लोगों को स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं मिले, इसके लिए शासन ने यहां अस्पताल स्थापित किया है। ऐसे में इतने संवेदनशील व आवश्यक सेवाओं के प्रति लापरवाही बरतने वालों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इस दौरान उन्होंने पूरे अस्पताल की विभिन्न शाखाओं में जाकर सघन निरीक्षण किया तथा बीपीएम को स्वच्छता बरतने व अनावश्यक उपकरणों का अपलेखन करने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने अस्पताल में दाखिल मरीजों व उनके परिजनों से स्वास्थ्य संबंधी चर्चा की। इसके बाद दोपहर को कलेक्टर ने संवेदनशील क्षेत्र के ग्राम बोरई गए, जहां पर उन्होंने लघु वनोपज जांच नाका का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने आने-जाने वाले वाहनों की चेकिंग तथा पंजी संधारण किए जाने की प्रक्रिया की भी जांच की। कलेक्टर ने सीमावर्ती राज्य ओड़िशा से आने-जाने वाले वाहनों का सघन परीक्षण करने और सभी वाहनों के नंबर दर्ज करने के निर्देश वन विभाग के कर्मियों को दिए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *