किसान नेता धीरेन्द्र ने कहा..सरकार वसुन्धरा कंपनी से किसानों की जमीन वापस दिलाए.जिला प्रशासन को बताया.खाद की कालाबाजारी पर लगाएं अंकुश

बिलासपुर—-भारतीय किसान संघ बिलासपुर जिला ईकाई अध्यक्ष  धीरेन्द्र दुबे की अगुवाई में किसानों ने जिला प्रशासन को मुख्यमंत्री के नाम मांग पत्र दिया है। किसान प्रतिनिधिमंडल ने जिला प्रशासन को 6 बिन्दु वाला मांग पत्र देते हुए के माध्यम से किसानों की समस्या से अवगत कराया। साथ ही समस्याओं का तत्काल निकारण किए जाने की बात भी कही।
          भारतीय किसान संघ जिला अध्यक्ष धीरेन्द्र दुबे की अगुवाई में किसानों का एक प्रतिनिधि मंडल 6 बिंदुओं वाले मांग मात्र के साथ जिला प्रशासन से मिला। धीरेन्द्र दुबे ने इस दौरान किसानों को हो रही समस्याओं से अवगत कराया। साथ ही समस्याओं का तत्काल निराकरण किए जाने पर जोर भी दिया।
            किसान नेता ने बताया कि खाद की कालाबाजारी से किसान परेशान और हलाकान है। खाद की कालाबाजारी करने वाले व्यापरियों पर अंकुश लगाया जाना बहुत जरूरी है। कालाबाजारी करने वाले व्यापारियों की  स्टाक पंजी और पास मशीन की जांच होनी चाहिए। ताकि  खाद की बिक्री पर नियंत्रण लगाया जा सके। 
               खाद की किल्लत के चलते छोटे किसानों की खेती  प्रभावित हो रही है। लागत की बढ़ोतरी से किसान परेशान है। इसमें खाद,बीज ,डीजल ,बिजली के बिल में बढोतरी,मजदूरी भी शामिल है। जिला प्रशआसन को बताया कि केंद्र सरकार से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के रूप में 6 हजार दिया जा रहा है। इसमें बढ़ोतरी किया जाना बहुत जरूरी है।बढ़ोत्तरी से किसानों को कॄषि कार्य करने में राहत मिलेगी।
             इस दौरान किसान नेता धीरेन्द्र ने जिला प्रशासन को अवगत कराया कि पाराघाट बेलटुकरी भनेशर के किसानों के साथ वसुंधरा कंपनी ने धोखाधड़ी किया है। मामले में पहले भी किसानों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देकर वस्तुस्थिति से अवगत कराया है। किसानों ने जमीन वापसी और वसुंधरा कंपनी मालिक सुशील कुमार जालान पर आपराधिक प्रकरण दर्ज किए जाने की मांग भी किया है। मामले में आईजी, एसपी  और मस्तूरी थाने में भी  शिकायत दर्ज है। बावजूद इसके अभी तक न तो कार्रवाई हुई है। और ना ही अपराध ही दर्ज किया गया है। राजस्व विभाग ने कार्रवाई के नाम केवल अभी तक केवल खानापूर्ति ही किया है।
                   किसानों में आक्रोश के मद्देनजर  मुख्यमंत्री से निवेदन है कि किसानों की जमीन वापस कराया जाए। साथ ही वसुंधरा कंपनी के मालिक पर अपराधिक प्रकरण दर्ज किया जाए। मस्तूरी विकासखंड बिल्हा के  ग्राम नगोई में लगभग 33 एकड़ कृषि जमीन में आम निस्तारी के लिए पानी निकासी की व्यवस्था को एक कालोनाइजर और  पीडब्लूडी विभाग ने बरबाद कर दिया है। पानी निकासी की समस्या से अंधरी खार के सभी किसान परेशान हैं। समस्या का तत्काल निराकरण किया जाए।
               जिला प्रशासन से मुलाकात के दौरान किसान प्रतिनिधिमंडल के सदस्य हेमंत सोनू तिवारी माधोसिंह ,रामसेवक कुशवाहा ,विक्रमसिंह ,प्रफुल्ल मिश्रा ,रामसुशील पांडेय,लक्छमी सिन्हा, महेश यादव,वीणा तिवारी ,पूनम शुक्ला , सुनिता साहू , चमेली सूर्यवंशी ,पहारू साहू ,वीरेंद्र शास्त्री ,ब्रजेश शास्त्री ,गोपी पटेल समेत अन्य लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *