गैस में लगी आग..विधायक शैलेष ने कहा..जनता रोए या गाए..टैक्स प्रेमी मोदी को चन्द उद्योगपतियों से प्यार..कांग्रेस कार्यकर्ता सड़क पर उतरने को तैयार

BHASKAR MISHRA
3 Min Read
बिलासपुर– नगर विधायक शैलेष पाण्डेय ने बताया कि प्रधानमंत्री का चन्द उद्योगपतियों के साथ जुगलबन्दी जनता पर भारी पर पड़ रहा है। गैस को लेकर चारो तरफ हाहाकार है। बावजूद इसके मोदी का टैक्स प्रेम कम होने का नाम नहीं ले रहा है। पाण्डेय ने कहा कि सब्सिडी भी हटा दिया गया है। ऐसे में गरीब जनता का जीना मुश्किल हो गया है। केन्द्र सरकार को किसी भी सूरत में घरेलु एलपीजी सिलेन्डर मूल्य वृद्धि को तत्काल वापस लेना होगा।
 
        नगर विधायक शैलेष पाण्डेय ने कहा कि केन्द्र सरकार की गलत नीतियों ने देश की जनता को खून के आंसू रोने को मजबूर कर दिया है। कांग्रेस सरकार के समय आम लोगों को महंगाई से राहत देने के कई उपाय किए गए। लेकिन मोदी सरकार ने आम लोगों को जानबूझकर संकट में डाल दिया है। संप्रग सरकार के समय रसोई गैस सिलेंडर का दाम 414 रुपए हुआ करता था। सब्सिडी भी दी जा रही थी। आज एक सिलेंडर की कीमत एक हजार से उपर है। उपर से सब्सिडी राशि को भी शून्य कर दिया गया है। ‘
 
              नगर विधायक ने बताया कि कांग्रेस नेतृत्व वाली सरकार ने देश के आम आदमी को होने वाली दिक्कतों को दूर करने के लिए सुरक्षा के कई उपाय किये गए। लेकिन मोदी सरकार ने जन सामान्य की सुरक्षा कवच को भी खत्म कर दिया है।  अत्याधिक महंगाई के कारण  बेरोजगारी का जीना मुश्किल हो गया है।
 
              मोदी सरकार ने एक बार फिर घरेलू गैस सिलेंडरों के दाम को बढ़ा दिया है। केन्द्र की लूट नीति ने आम आदमी के रसोई का बजट बिगाड़ दिया है। मंहगाई से त्रस्त जनता नरेन्द्र मोदी के पुराने जुमलों को याद कर रही है। नगर विधायक शैलेष पांडेय ने केन्द्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि सबके किचन में हीं क्यों, जिन्दगी में हीं भी आग लग गयी है।
 
              बेरजोगारों को रोजगार नहीं मिल रहा है। व्यापारियों का व्यापार चौपट हो रहा है। और आम जनता मंहगाई की मार से खून के आंसू रोने को मजबूर है।  दाल, सब्जी, खाने के तेल से लेकर रसोई गैस तक सब कुछ महंगा हो गय है। माल ढुलाई कई गुना मंहगा होने के कारण हर सामान्य वस्तु का दाम आसमान पर है।
 
           शेलेष पाण्डेय ने बताया कि देश के लाखों लोगों की मेहनत और पसीने से तैयार सरकारी कंपनियों को प्रधानमंत्री कोड़ियों के दाम में बेच रहे हैं। केन्द्र सरकार का एक ही मूलमंत्र है जनता मरे तो मरे..लेकिन मंहगाई बढ़ाते जाओ। विधायक ने दुहराया कि यदि सरकार घरेलूुएलपीजी सिलेन्डर में की गयी वृद्धि को वापस नहीं लेती है तो कांग्रेस कार्यकर्ता सड़क पर उतरने को मजबूर हैं।

TAGGED: , ,
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close