BJP ने 7 बागी नेताओं को किया सस्पेंड, टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय भरा था नामांकन

Gujarat Election 2022: गुजरात में विधानसभा चुनाव को लेकर काफी गहमा-गहमी दिख रही है. प्रदेश में 27 साल से सरकार चला रही बीजेपी के प्रदर्शन पर सबकी निगाहें टिकी हैं. पार्टी एक बार फिर से राज्य में कमल खिलाने के लिए पूरी ताकत लगा रही है. लेकिन बागी नेता पूरा गेम बिगाड़ने में लगे हैं. बागियों पर अब बीजेपी ने सख्त एक्शन लिया है. गुजरात बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल ने पार्टी से बगावत करने वाले 7 नेताओं को निष्कासित कर दिया है. इन नेताओं ने पार्टी से टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय नामांकन किया है. पार्टी से निष्कासित होने वाले नेताओ में मधु श्रीवास्तव, अरविंद लादानी, दीनू पटेल, हर्षद वसावा और धवल सिंह झाला सहित 7 लोगों का नाम है. प्रदेश अध्यक्ष ने इसको पार्टी के विरुद्ध कार्य करने के लिए बाहर का रास्ता दिखा दिया है. 

टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय भरा था पर्चा
बीजेपी के कई नेताओं ने पार्टी से टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय पर्चा भर दिया है. इनमें कई विधायक और पूर्व विधायक भी शामिल है. पार्टी से निष्कासित होने वाले अरविंद लदानी ने भी निर्दलीय पर्चा भरा था. प्रदेश अध्यक्ष के समझाने पर भी उन्होंने अपना नामांकन वापस नहीं लिया है. वाघोडिया से बीजेपी की टिकट पर 6 बार विधायक रहे मधु श्रीवास्तव को जब टिकट नहीं मिला, तो वे भी निर्दलीय मैदान में कूद गए थे. 

गुजरात में फिर से कमल खिलाने की जिम्मेदारी पीएम मोदी ने अपने कंधों पर ले रखी है. इसके लिए जमकर पसीना बहा रहे हैं. पीएम मोदी ने आज गुजरात के वेरावल में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया. रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इस बार गुजरात में रिकॉर्ड तोड़ना है. हर पोलिंग बूथ पर बीजेपी को जिताना है. मोदी ने कहा कि चाहता हूं कि नरेंद्र का रिकॉर्ड भूपेंद्र तोड़ें.

पहले चरण का मतदान 1 दिसंबर और दूसरे चरण का 5 दिसंबर को होगा. इसके बाद 8 दिसंबर को चुनाव का नतीजा आएगा. इसी दिन हिमाचल प्रदेश के चुनावी नतीजों का भी एलान होना है. चुनाव के एलान के साथ ही गुजरात में अधिसूचना लागू हो गई है. 14 नवंबर तक उम्मीदवार नामांकन दाखिल कर सकते हैं और नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख 17 नवंबर है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *