सीयू में स्वतंत्रता दिवसः कर्तव्यनिष्ठा ही राष्ट्र के प्रति निष्ठा है- कुलपति प्रो. चक्रवाल

बिलासपुर।। गुरु घासीदास विश्वविद्यालय (केन्द्रीय विश्वविद्यालय) विद्यार्थियों के लिए ज्ञान का पुंज बनेगा। हमारी कर्तव्यनिष्ठा ही राष्ट्र के प्रति सच्ची निष्ठा है। यह बात विश्वविद्यलाय के कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार चक्रवाल ने 76वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर कही। रिमझिम फुहारों की बीच विश्वविद्यालय में 76वां स्वतंत्रता दिवस समारोह पूरी सादगी एवं उत्साह के साथ मनाया गया।
कार्यक्रम के प्रारंभ में कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार चक्रवाल एवं कुलसचिव प्रो. शैलेन्द्र कुमार ने सर्वप्रथम संत गुरू घासीदास जी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए ।साथ ही वानिकी विभाग में पौधारोपण किया गया। तत्पश्चात मां सरस्वती की प्रतिमा एवं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं बाबा गुरु घासीदास जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर आजादी के 75 साल के अमृत महोत्सव के पावन एवं पुनीत अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज का ध्वजारोहण किया।
76वें स्वतंत्रता दिवस समारोह को संबोधित करते हुए कुलपति ने विश्वविद्यालय के समस्त शिक्षकों, अधिकारियों, कर्मचारियों एवं छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए शुभकामनाएं एवं हार्दिक बधाईयां दीं। हम वास्तव में सौभाग्यशाली हैं कि हमें आजादी के 75 साल का अमृत महोत्सव मनाने का अवसर मिला है। ‘भारत’ ज्ञानरूपी प्रकाश की खोज में रत लोगों का राष्ट्र है। भारतवर्ष की संस्कृति और इतिहास हजारों साल पुराना है। हमें स्वयं को श्रेष्ठ बनाने के लिए ईमानदारी के साथ अपने दायित्वों एवं कर्तव्यों का निर्वहन करना होगा।
प्रो. चक्रवाल ने कहा कि विश्वविद्यालय का विकास ही राष्ट्र का विकास है। हमें ऐसे नागरिकों का निर्माण करना है जिन पर राष्ट्र के साथ संपूर्ण विश्व गौरव का अनुभव करे। हमें सदैव राष्ट्र के गौरव एवं विकास के हित में विचार करना चाहिए। उन्होंने विश्वास जताया कि सभी के संकल्प, सहयोग, समन्वय, सामंजस्य एवं समर्पण से हम विश्वविद्यालय को देश के श्रेष्ठतम विश्वविद्यालयों की श्रेणी में लाकर खड़ा कर सकते
प्रो. चक्रवाल ने कहा कि आजादी का मतलब अपने दायित्व, कर्तव्य और जिम्मेदारी का बोध होना है। हमारे विद्यार्थी प्रतिभाशाली हैं जो विश्व में सकारात्मक परिवर्तन लाने की क्षमता रखते हैं। हमें राष्ट्र के निर्माण और उत्कर्ष के लिए समर्पित भाव से कार्य करना होगा।
इस अवसर पर प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले एवं राष्ट्रीय स्तर की स्पर्धा में विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया। शारीरिक शिक्षा विभाग एवं जीव विज्ञान विभाग के विद्यार्थियों ने देशभक्ति से ओतप्रोत नृत्य नाटिका प्रस्तुत की। कार्यक्रम के अंत में कुलसचिव प्रो. शैलेन्द्र कुमार ने धन्यवाद ज्ञापित करते हुए सभी का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन अधिष्ठाता छात्र कल्याण डॉ. एम.एन. त्रिपाठी ने किया। इस अवसर पर प्रसाद का वितरण किया गया। कार्यक्रम में समस्त विद्यापीठों के अधिष्ठातागण, विभागाध्यक्षगण, शिक्षकगण, अधिकारीगण एवं कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.