Monkeypox Spread: सेक्स, समलैंगिक संबंध से क्यों फैली बीमारी, इसके लक्षण, सारे जवाब पाएं

इस वक्त दुनिया भर में मंकीपॉक्स बीमारी को लेकर लोग आशंका से घिरे हैं. इस बीमारी के लक्षण, संक्रमण और इलाज को लेकर अभी तक असमंजस की स्थिति बनी है. मंकीपॉक्स कैसे फैला, क्या इसके पीछे की वजह अनसेफ सेक्स है, ऐसे कई सवाल आपके मन में भी होंगे. यहां जानें इससे जुड़े हर सवाल के जवाब.

कैसे फैलता है मंकीपॉक्स 
मंकीपॉक्स आमतौर पर बुखार, ठंड लगने, चेहरे या जननांगों पर दाने और घाव का कारण बनता है. यह किसी संक्रमित व्यक्ति या उसके संपर्क में आने की वजह से भी फैलता है. संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने, यौन संबंध बनाने या उसकी इस्तेमाल की हुई चीजों के इस्तेमाल से भी बीमारी फैलने का खतरा है. यूरोप में हाल ही में 2 बहुत बड़ी रेव पार्टी आयोजित हुई थी. इन पार्टियों में नशा, ड्रग्स के साथ असुरक्षित यौन संबंध बने थे जिनकी वजह से यह बीमारी बड़े पैमाने पर पूरे महाद्वीप में फैली.

Same Sex संबंधों की वजह से भी फैली बीमारी 
डब्ल्यूएचओ के आपातकालीन विभाग के प्रमुख रहे डॉ. डेविड हेमन ने कहा कि सबसे मजबूत सिद्धांत यह है कि स्पेन और बेल्जियम में आयोजित दो रेव पार्टी की वजह से बीमारी का बड़े पैमाने पर प्रसार हुआ है. केनेरी आइलैंड में ‘गे प्राइड कार्यक्रम’ और बीमारी के बीच संभावित जुड़ाव की जांच की जा रही है. इस कार्यक्रम में 80,000 लोग आए थे.

समलैंगिकों और अन्य लोगों के बीच यौन संबंधों की वजह से इस बीमारी का प्रसार हुआ है. ये यौन संबंध असुरक्षित तरीके से बनाए गए थे और ऐसे संबंध हमेशा खतरनाक होते हैं. बता दें कि इससे पहले तक मंकीपॉक्स अफ्रीका में ही सीमित था और वहां यह एक स्थानीय बीमारी थी.

घर पर रहकर ही ठीक हो रहे हैं लोग 
अभी तक यौन जनित संक्रमण का दस्तावेजीकरण नहीं किया गया है. अधिकतर लोगों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं होती और कुछ हफ्तों के भीतर बीमारी से ठीक हो जाते हैं.

डब्ल्यूएचओ ने ब्रिटेन, स्पेन, इजरायल, फ्रांस, स्विट्जरलैंड, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया सहित 10 से ज्यादा देशों में मंकीपॉक्स के 90 से अधिक मामले दर्ज किए हैं. मैड्रिड के वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी एनरिक रूज एसकुदेरो ने कहा कि स्पेन की राजधानी में अब तक 30 मामलों की पुष्टि हो चुकी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *