पत्रकार सुरक्षा समिति की शिकायत पर विधायक ने कहा 15 दिवस के अंदर आबकारी उपनिरीक्षक पर होगी कार्रवाई

रायगढ़।जिले मे मिलावट शराब की चर्चा चहुओर है, लेकिन मामले ने तुल तब पकड़ जब सारंगढ़ मे सुपरवाइजर का शराब मे मिलावट करने का विडिओ सोशल मिडिया मे वायरल हुवा। इस आग मे घी डालने का काम देशी शराब भट्टी के कर्मचारी ने यह कहते हुवे किया की सभी मिलावट आबकारी उपनिरीक्षक अनिल बंजारे के कहने पर किया जा रहा है, कर्मचारी ने यहाँ तक मिडिया मे बताया की अनिल बंजारे द्वारा उन्हे प्रतिदिन दुकान से 8000 की फिक्स चढ़ोत्तरी मांगी जाती हैं यह चढ़ोत्तरी सिर्फ 1 दुकान की है जबकि सारंगढ़ मे देशी के अलावा अंग्रेजी, रेड़ा मे कम्पॉजिट, कोसीर सहित अन्य शराब दुकाने भी स्थित हैँ जहाँ भी मिलावट की शिकायत आये दिन होते रहती है।

इसके अलावा भी सूत्रों के अनुसार अनिल बंजारे द्वारा ग्रामीण इलाकों मे अवैध शराब कोचियों से तगड़ी सेटिंग की बात कही जाती है,जिन्हे खुलेआम शराब बेचने की छुट दी जाती है? महीना पहुंचाने मे देरी करने वालो पर यही अनिल बंजारे कहर बनकर टूटते हैँ। अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के जिला अध्यक्ष नरेश चौहान ने विधायक को दिए गये लिखित शिकायत मे कहा है कि छ0ग0 शासन द्वारा छत्तीसगढ में स्थित सभी शराब दुकानों का संचालन किये जाने का निर्णय लिया गया है ताकि शराब मे मिलावट खोरी ना हो।

लेकिन शासन की इस मंशा के विपरीत सारंगढ में पदस्थ आबकारी उप निरीक्षक अनिल बंजारे ने अपने जेब भरने अर्थात्‌ अधिक पैसा कमाने के उद्देश्य एक अपने कर्मचारियों एक पैसों की मांग की जाती है जिससे कर्मचारी मिलावट करने हेतु विवश होते हैँ। पूर्व मे संभागीय अधिकारियों द्वारा जांच मे अधिकांश मदिरा दुकानों पर शराब के साथ पानी एवं अन्य तरल पदार्थ मिलाया जाना पाया भी गया रहा हैं। जिस पर दुकान के संचालन में रहे लेबर व अन्य कर्मचारियों के विरूद्ध कार्यवाही तो की गई किन्तु आबकारी उप निरीक्षक अनिल बंजारे से कोई भी पुछताछ नहीं किया गया। जिससे आबकारी उप निरीक्षक अनिल बंजारे का मनोबल और अधिक बढ़ गया साथ ही दुकानों में मिलावटी का खेल बदस्तूर जारी है।

ढाबा ,चखना सेंटरों और महुआ शराब कोचियों से है अनिल बंजारे की तगड़ी सेटिंग –

शिकायत के अनुसार अनिल बंजारे की अवैध कमाई का जरिया सिर्फ शराब दुकान मे मिलावट तक ही नही बल्कि सारंगढ अंचल में स्थित प्रायः सभी ढाबा, होटल व छोटे-छोटे अंडा, मछली (चखना) विक्रेताओं के साथ भी है जिनसे प्रतिमाह उनकी झोली मे चढ़ावा पहुंचता है और उन्हे खुले आम शराब पीने और पिलाने की सुविधा अनिल बंजारे के आदेश से मुहैया कराई जाती है। और जिन दुकानों का चढ़ावा महीने मे नही पहुंचता उन पर कार्रवाई की गाज बनकर भी अनिल बंजारे बरसते हैँ।

सारंगढ़ मे अंगद की तरह जमे है अनिल बंजारे –

विदित हो आबकारी उप निरीक्षक अनिल बंजारे विगत 5-6 वर्षों से उक्त पद पर पदस्थ है तथा सारंगढ स्थित नेताओं और अवैध व्यापारियों के साथ दुकानदार और नागरिकों से व्यक्तिगत परिचित भी है। जिसका फायदा उठाकर सेटिंगबाजी मे श्री बंजारे माहीर हो चुके हैँ, और कभी खुदपर कार्रवाई ना होता देख इनका मनोबल बढ़ना लाज़मी है। अतः अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति ने विधायक उत्तरी जांगड़े से यथाशीघ्र सारंगढ अंचल में संचालित शराब दुकानों व आवेदन में उल्लेखित समस्त बातों पर जांच कार्यवाही करते हुए पदस्थ उप निरीक्षक अनिल बंजारे को कार्यवाही पूर्व निलंबित अथवा स्थानांनतरित किये जाने का संबंधित अधिकारियों को आदेरशित एवं निर्देशित करने की मांग की है।

सारंगढ़ की जनता को लूटने वाले अधिकारी पर जल्द होगी कार्रवाई – विधायक उत्तरी जांगड़े

विधायक उत्तरी गणपत जांगड़े ने अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के पदाधिकारियों समेत सारंगढ़ के समस्त जनता को आश्वास्त किया है की इस विषय मे उनके द्वारा निष्पक्ष जांच कराया जाएगा, और दोषी पाए जाने पर जनता से धोखा और छलावा करने वाले अधिकारी अनिल बंजारे पर जल्द बड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *