3.73 लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सरकार का बड़ा तोहफा! बढ़ाया गया मानदेय, जानें कितना होगा फायदा

लखनऊ।उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में आगामी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) से पहले प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) ने लगभग 3.73 लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं (Anganbadi Workers) का मानदेय बढ़ा दिया है. इस बार के त्योहार सीजन से पहले इनके मानदेय में 1500 रुपए से लेकर 750 रुपए तक की बढ़ोतरी कर दी गई है. आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मानदेय के साथ अब बतौर प्रोत्साहन राशि हर महीने 1500 रुपए, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 1250 रुपए और आंगनबाड़ी सहायिकाओं को 750 रुपए और मिलेंगे. इनके मानदेय में 1500 रुपये से लेकर 750 रुपये तक की बढ़ोतरी कर दी है.

दरअसल, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग की प्रमुख सचिव वी हेकाली झिमोमी की ओर से जारी आदेश के मुताबिक प्रोत्साहन राशि को परफार्मेंस से जोड़ते हुए नए सिरे से मानक तय किए गए हैं. ऐसे में लगभग 3.73 लाख कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं को इसका लाभ मिलेगा. वहीं, बढ़ा हुआ मानदेय एक सितंबर से लागू हो जाएगा.

लाभार्थियों को पोषण शत-प्रतिशत बांटने पर मिलेगी प्रोत्साहन राशि

गौरतलब है कि सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बीते दिनों अनुपूरक बजट में मानदेय बढ़ाने की घोषणा की थी. इसके लिए सरकार ने 265.70 करोड़ रुपए की बजट में व्यवस्था कर रखी है. वहीं, अनुपूरक पोषाहार में सभी रजिस्टर्ड लाभार्थियों को हर महीनें पोषाहार के शत-प्रतिशत बांटने के लिए आंगनबाड़ी और मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 500-500 रुपए हर महीनें और सहायिकाओं को 400 रुपए प्रति महीने प्रोत्साहन राशि दी जाएगी.

परफॉरमेंस से जोड़ा जाएगा मानदेय

बता दें कि इसके साथ ही सभी रजिस्टर्ड लाभार्थियों के लिए पोषण ट्रैकर के सभी क्षेत्रों का हर महीनें शत-प्रतिशत फीडिंग का काम पूरा करने पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 1000 रुपए, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 750 रुपए और सहायिकाओं को 350 रुपए दिए जाएंगे. आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को परफार्मेंस के आधार पर प्रोत्साहन राशि देने का फैसला साल 2019 में किया गया था, लेकिन उस दौरान इसे लागू नहीं किया जा सका था. ऐसे में विभाग की इच्छा है कि परफार्मेंस से प्रोत्साहन राशि जोड़ने से सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अपने क्षेत्रों में बेहतर काम करेंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *