मेरा बिलासपुर

समय से पहले लगी बूथों में कतार…नौजवान, बुजुर्गों ने मतदान मे लिया बढ़ चढ़कर मतदान में हिस्सा…बिना थके किया बारी का इंतजार

बिलासपुर—जिले में हर वर्ग के मतदाताओं ने मतदान में उत्साहपूर्वक हिस्सा लिया। भीषण गर्मी के बावजूद ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के मतदान केंद्रों में मतदाता सुबह 7 बजे के पहले से ही कतारबद्ध नजर आए। बिना थके अपनी बारी का इंतजार कर मतदान किया। कलेक्टर अवनीश शरण, पुलिस अधीक्षक रजनेश सिंह, समेत आला अधिकारियों ने इस दौरान मतदान केंद्रों का भ्रमण कर  शांतिपूर्ण के लिए टीम को बधाई दी है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

        जिले में मतदान करने लोगों में अभूतपूर्व उत्साह नजर आया। युवा मतदाता, दिव्यांग, वरिष्ठ नागरिक, महिलाएं सहित विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा आदिवासी मतदाताओं ने भी मतदान किया। बिलासपुर विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र मिशन स्कूल स्थित मतदान केन्द्र में 85 वर्षीय वरिष्ठ मतदाता सुदेश भाटिया ने मतदान कर एक आदर्श मतदाता होने का परिचय दिया। राजेन्द्र नगर निवासी 85 वर्षीय हमिदा बेगम ने भी मिशन स्कूल के मतदान केंद्र में मतदान किया। बिलासपुर की वरिष्ठ मतदाता  श्रीमती विजय लक्ष्मी ने तिलक नगर मतदान केंद्र में मतदान किया।  श्रीमती शंकुतला तिवारी सहित अन्य वरिष्ठजनों ने भी मतदान कर जागरूक नागरिक होने का दायित्व निभाया।

कोटा विधानसभा के ग्राम करका सहित अन्य गांवो के विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा आदिवासी मतदाताओं ने मतदान कर लोकतंत्र के निर्माण में अपना योगदान दिया। बिलासपुर विधानसभा के शासकीय शबरी माता महाविद्यालय मतदान केन्द्र में पहली बार मतदान करने आए युवा सुश्री जिया ताम्रकार, दीपिका श्रीवास और अभिषेक साहू भी मतदान को लेकर उत्साहित नजर आए। उन्होंने बताया कि लोकतंत्र को मजबूत बनाने में अपनी सहभागिता दर्ज कर आज बेहद खुश एवं उत्साहित हैं। उन्होंने सभी मतदाताओं से समय निकालकर अनिवार्य रूप से मतदान करने की अपील की। दिव्यांग मतदाताओं ने भी मतदान में बढ़-चढ़कर मतदान किया। उन्होंने बताया कि लोकतंत्र को मजबूत बनाने में अपनी सहभागिता दर्ज कर आज वे बेहद खुश हैं।

घर आ जा संगी अभियान को सफलता

श्रम विभाग द्वारा प्रवासी श्रमिकों के लिए चलाए गए  घर आ जा संगी मतदान करे बर अभियान को अच्छी सफलता मिली। लोकतंत्र के सबसे बड़े पर्व में शामिल होने प्रयागराज से आज विकासखंड मस्तूरी के ग्राम रेलहा के 29 श्रमिक सारनाथ एक्सप्रेस से पहुंचे और उन्होंने अपने मताधिकार का उपयोग किया। लोकसभा चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करने अब तक लगभग 5 हजार प्रवासी श्रमिकों की जिले में वापसी हुई है।

मतदाता मित्रों की महत्वपूर्ण भूमिका

मतदान केंद्रों में वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगों और शारीरिक रूप से अक्षम व्यक्तियों को मतदान कराने स्कूली विद्यार्थियों, मतदाता सहायक, स्काउट्स एवं गाइड्स ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्हें मतदान केंद्र तक पहुंचाने, पेयजल, शरबत उपलब्ध कराने का कार्य किया। मतदान में दिव्यांग मतदाताओं ने भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। दिव्यांगों ने व्हील चेयर, ट्रायसायकल आदि के सहारे मतदान केन्द्र पहुँच कर वोट डाला।

दिव्यांग और  सियान रथ की अहम भूमिका

मतदान केंद्रों तक पहुंचने में 80 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ मतदाता एवं दिव्यांग मतदाताओं के लिए दिव्यांग रथ एवं सियान रथ भी मददगार साबित हुए।

प्रेक्षकों के साथ  कलेक्टर ने लिया  जायजा

मतदान दिवस पर भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जिले के लिए नियुक्त सामान्य प्रेक्षक श्री अभय ए महाजन ने मतदान केंद्रों में जाकर मतदान की स्थिति तथा अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने मतदाताओं से भी चर्चा की। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अवनीश शरण ने मतदान केंद्रों में पहुंचकर व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। इस दौरान मतदाताओं से भी चर्चा की।

थर्ड जेंडर की भागीदारी

तृतीय लिंग के मतदाता भी मतदान में बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं। तृतीय लिंग समुदाय के ऐलिना जेकप, सतीश ठाकुर, देवी, राजा सरकार ने स्वयं भी मतदान कर सभी से मतदान करने की अपील की है।

संगवारी मतदान केंद्र  उत्साह

जिले में 60 संगवारी, 27 आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए थे। इसी प्रकार युवा और दिव्यांग कर्मियों द्वारा प्रबंधित मतदान केंद्र भी बनाए गए थे। इन सभी केंद्रों में मतदान करने उत्साह का माहौल नजर आया। इस दौरान संगवारी बूथ में वोट डालने के बाद मतदाताओं ने संगवारी बूथ की सराहना की।

मतदान के बाद सेल्फी

मतदान केंद्रों में अनेक स्थानों पर सेल्फी जोन बनाया गया था। मतदान करने के पश्चात् अनेक मतदाताओं ने सेल्फी लेकर अपनी फोटो जगह-जगह शेयर की और लोकतंत्र के इस महापर्व में अपनी भागीदारी देने का प्रमाण प्रस्तुत किया।

वेबकास्टिंग से मतदान केंद्रों की निगरानी

मतदान केंद्रों की लाइव स्थिति जानने के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई थी। जिले में कुल 763 मतदान केंद्रों की वेबकास्टिंग की गई।

                   

Back to top button
close