मेरा बिलासपुर

संजू त्रिपाठी मर्डर अपडेटः दत्तक पुत्री से संजू और पिता का अवैध सम्बन्ध..सम्पत्ति विवाद बना हत्या का कारम.एक दर्जन से अधिक षड़यंत्र में शामिल…शूटरों ने किया काम

बिलासपुर— सकरी थाना क्षेत्र स्थित संजू त्रिपाठी हत्या मामले में पुलिस की तरफ से नया अपडेट सामने आया है। संजू त्रिपाठी की हत्या की वजह दत्तक पुत्री से बाप बेटी के बीच अवैध सम्बन्ध और सम्पत्ति विवाद को बताया जा तहा है। बताया जा रहा है कि हत्या मामले में एक दर्जन से अधिक लोग शामिल है। संजू त्रिपाठी को मौत के घाट उतारने में शार्प शूटर का सहारा लिया गया है। पुलिस ने इशारा किया है कि मामले में मृतक संजू त्रिपाठी का छोटा भाई कपिल त्रिपाठी की भी भूमिका से इंकार नहीं किया जा सकता है। पुलिस ने कपिल त्रिपाठी का अपराधिक रिकार्ड मीडिया साझा किया है। 

            सकरी थाना क्षेत्र स्थित संजू त्रिपाठी हत्या मामले में पुलिस को नया सुराग हासिल होने की खबर है। पुलिस ने हत्या में उपयोग किए गए स्कार्पियो, बेलेनों के बाद अब तीसरा वाहन भी बरामद किया है।

                              बताया जा रहा है कि पुलिस अपराधियों तक पहुंच गयी है। मामला हाईप्रोफाइल होने के कारण मामले में पुलिस सभी प्रकार के सबूतों को समेटने का प्रयास कर रही है। जानकारी के अनुसार जल्द ही पुलिस मामले का खुलासा भी करने वाली है।

मृतक और पिता का दत्तक पुत्री से अवैध रिश्ता

                    पुलिस को मिली प्रारंभिक जानकारी के अनुसार हत्या की मुख्य वजह जमीन जायजाद और अवैध संबध है। सूत्र के अनुसार मृतक संजू त्रिपाठी और उसके पिता का सम्बन्ध दत्तक पुत्री से था। मौत की वजह दत्तक पुत्री के साथ पिता और संजू का अवैध सम्बन्ध है। इस बात को लेकर पिता और संजू त्रिपाठी के अलावा घर के सदस्यों में विवाद था। इसके अलावा परिवार में सम्पत्ति को लेकर भी पिछले एक महीने से घमासान चल रहा था। 

हत्या कर भिखारियों के गैंग में शामिल..आरोपी पति गिरफ्तार..हुलिया बदल बना था भिखारी

अपराधियों तक पहुंची पुलिस

                             पुलिस के अनुसार पुलिस अपराधियों तक पहुंच गयी है। मामले में एक दिन पहले बरामद हत्या को अंजाम देते समय उपयोग में लाए गए स्कार्पियो और बेलेनो कार को लावारिश हालत मे बरामद किया गया है। शुक्रवार को तीसरे वाहन को लावारिश हालत में जब्त किया गया है।

                               एडिश्नल एसपी ने मामले में बताया कि संजू त्रिपाठी की मौत को लेकर परिवार के सदस्यों ने रणनीति तैयार किया। हत्या के षडयंत्र मे एक दर्जन से अधिक लोगों के शामिल होने का प्रमाण मिला है। रणनीति के अनुसार संजू की हत्या के लिए शार्प शूटर को हायर किया गया। मौका मिलते ही शूटरों ने अपना काम किया। और वाहन से फरार हो गए।

 खंगाला गया कपिल त्रिपाठी का रिकार्ड

                   संजू त्रिपाठी की हत्या में छोटे भाई कपिल त्रिपाठी की भूमिका अहम् बताया जा रहा है। पुलिस ने तमाम प्रमाण एकत्रित किए हैं। सूत्रों की माने तो कपिल पुलिस के घेरे में है। पुलिस ने कपिल त्रिपाठी का अपराधिक रिकार्ड भी सार्वजनिक कर दिया है। 

कपिल त्रिपाठी की अपराधिक कुण्डली

               पुलिस के अनुसार हिस्ट्रीशीटर कपिल त्रिपाठी आदतन बदमाश है। फरार कपिल के खिलाफ सिविल लाइन थाना में  13 से अधिक मामलों में अपराध दर्ज है। आरोपी के खिलाफ पहला अपराध 2003 में आईपीसी की धारा 341, 323, और 34 का अपराध दर्ज किया गया। साल 2022 में 13वां अपराध आईपीसी की धारा 323, 294, 506, 324 और 34 के तहत अपराज पंजीकृत हुआ है। साल 2003 में ही 324 और 34 के दो अलग अलग मामले  में अपराध दर्ज हुआ है। साल 2004 में अलग अलग मामले में 147,452, 323, 294, 506, 34 341, का अपराध दर्ज हुआ है।

महावर ने किया मतदान केन्द्रों औचक निरीक्षण...अधिकारियों से कहा...अव्यवस्था का मतलब सख्त कार्रवाई

             पुलिस के अनुसार साल 2005 में 294, 506बी,323,341,324, और 34 के तहत प्रकरण कायम किया गया है। साल 2007 में तीन अलग अलग अपराध में 294, 506, 323,34 का अपराध दर्ज हुआ है। इसके अलावा साल 2010 में कपिल त्रिपाठी  294, 506बी, और 34 के तहत आरोपी है। साल 2022 में सिविल लाइन पुलिस ने कपिल के खिलाफ 294, 323, 506, 323 और 34 का अपराध दर्ज किया है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS