ईसीटीसी में गूंजी किलकारी : कोरोना संक्रमित दो महिलाओं का हुआ सीजेरियन आपरेशन से सफल प्रसव

वैश्विक महामारी कोरोना से लगातार जूझ रहे स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक और पैरामेडिकल स्टाफ  रोज नई नई चुनौतियों का सामना कर रहें हैं। कोरोना संकट की विषम परिस्थियों में भी लोगों के स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए जिले के चिकित्सक और मेडिकल स्टाफ समर्पण भाव से अपनी  सेवाएं दे रहे हैं।  वैश्विक महामारी कोरोना से अनेक गर्भवती महिलाएं भी संक्रमित है। जांजगीर चाम्पा जिले में ईसीटीसी में विगत 3 दिनों से भर्ती कोरोना संक्रमित दो गर्भवती महिलाओं का सिजेरियन आपरेशन से प्रसव कराया गया।ईसीटीसी के प्रभारी डॉ अनिल जगत ने बताया कि शनिवार 24 अप्रैल को 2 महिलाओं का सिजेरियन ऑपरेशन से प्रसव कराया गया गया। एक महिला की  रीढ़ की हड्डी जन्म से विकृत होने के कारण सिजेरियन आपरेशन से प्रसव कराना आसान नही था। इसके लिए दो यूनिट ब्लड, आक्सीजन सिलेण्डर आदि की तैयारी की गयी थी।

मनोवैज्ञानिक परामर्श से महिलाओं का आत्म विश्वास बढ़ाया गया।  जिला अस्पताल जांजगीर चाम्पा के  डाॅ अरविंद एक्का, डॉ संगीता देवांगन की टीम ने सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण होने पर दोनों महिलाओं का सिजेरियन ऑपरेशन से सफल प्रसव कराया।  दोनों महिलाओं को बेटा हुआ है।  दोनों बच्चे स्वस्थ हैं। अस्पताल की सिस्टर राजी सिंह, मेघा, पुष्पा, पावित्री और कुलदीप पूरी आत्मीयता के साथ जच्चा-बच्चा की देख-रेख कर रहे हैं। स्वच्छता कर्मचारी भी सेवा  भाव  से कार्य में जुटे हुए हैं। ईसीटीसी सहित जिले के विभिन्न कोविड केयर सेंटर्स में पेयजल, विद्युत व्यवस्था, भोजन, साफ-सफाई व्यवस्था आदि के लिए भी संबंधित  विभागों के कर्मचारी सेवाएं दे रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *