छत्तीसगढ़ में भयानक हादसाः एक शिक्षक और मां-बेटे समेत सात लोंगों की मौत, अब तक चार की पहचान

क़ोरब़ा। कोरबा – अंबिक़ापुर रोड पर सोमवार की सुबह बड़ा हादसा हो गया । जिसमें सात लोगों की दर्दनाक मौत का ख़बर आई है। हादसे में जिन सात लोगों के मौत की ख़बर है, उनमें से चार की पहचान हुई है। जिनमें एक शिक्षक का भी नाम सामने आ रहा है। एक ही परिवार के मां-बेटे की भी मौत की ख़ब़र है।

यह हादसा कोरबा ज़िले के बांगो थाना अंतर्गत नेशनल हाइवे पर मडई घाट के पास हुआ है। जिसमें सात लोगों की मौत हो गई है। रायपुर से सीतापुर, अंबिकापुर की ओर जाने वाली मेट्रोस्टार बस हादसे का शिकार हुई है। यह बस  एक खड़ी ट्रेलर से टकरा गई।यह हादसा उस समय हुआ, जब सामने से आ रही एक कार से बचने की कोशिश में बस- एक ख़ड़ी ट्रेलर से टकरा गई ।  टक्कर इतनी तेज़ थी कि बस काफ़ी क्षतिग्रस्त हो गई औऱ उसमें सवार सात लोगों की मौत की ख़ब़र है। तीन लोग घायल हुए हैं। जिसमें से दो लोग गंभीर बताए गए हैं।

हादसे के बारे में पता चला है कि सुबह करीब चार बज़े के आसपास यह हादसा हुआ । इसमें सामान्य रूप से घायल लोगों का इलाज़ पोंड़ी अस्पताल में चल रहा है। गंभीर रूप से घायल दो लोगों को कोरबा अस्पताल भेजा गया है। हादसे की ख़बर मिलने के बाद बांगो पुलिस की टीम एंबुलेंस के साथ मौक़े पर पहुंची और लोगों को तत्काल मदद पहुंचाने की कोशिश की।

इस भायनक हादसे में मृत चार लोगों की पहचान कर ली गई है। पुलिस सूत्रों के मुताब़िक अब तक जिनकी पहचान हुई है, उनमें उषा देवी लकड़ा पति- अनिल कुमार लकड़ा 43 वर्ष  घोसू-पंडरीपानी थाना सीतापुर , रिलायंस लकड़ा पिता अनिल कुमार लकड़ा 5 वर्ष घोंसू पंडरीपानी थाना सीतापुर , अजय वरदान लकड़ा पिता अमर साय लकड़ा सरनाडांड़ चिरापार थाना सीतापुर  और रोहित सिंह पिता मोहन कुमार सिंह 30 वर्ष लमगांव थाना लुण्ड्रा सरगुजा के नाम शामिल बताए गए हैं। रोहित सिंह मेनपाट हाइस्कूल कूनया में शिक्षक थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.