लोकसेवा आयोग के पोर्टल से आयु सीमा कालम गायब..भड़के प्रतियोगियों ने बताया.आयोग ने फिर किया साजिश..सचिव ने कहा-करेंगे त्रुटियों में सुधार

रायपुर /बिलासपुर—-सीजीपीएससी पोर्टल में एक बार फिर खामी सामने आयी है। अभ्यर्थियों में छत्तीसगढ़ लोकसेवा आयोग की तरफ से बार बार इस प्रकार की गलतियां दुहराए जाने से आक्रोष है। लगातार प्रकिया संचालन  में हों रही लापरवाही को लेकर ना केवल संशय है बल्कि भयंकर नाराजगी भी है। आयोग की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए प्रतियोगियो का मानना है कि जानबूझकर प्रतियोगी परीक्षा के विद्यार्थियों के साथ लोक सेवा आयोग बार-बार प्रयोग कर रहा है। इसके चलते परेशानियां बढ़ती है।
 
                छत्तीसगढ लोक सेवा आयोग को जैसे विवादों और सुर्खियों में रहने की आदत सी हो गयी है। पिछले बीस सालों में ऐसा कोई साल नही रहा जब लोकसेवा आयोग की गतिविधियों से विवाद और भ्रम की स्थिति पैदा नहीं किया गया है। छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग ने आज तक किसी भी परीक्षा का 100 प्रतिशत सही उत्तर नहीं दे पाया है। हर परीक्षा के मॉडल आंसर में 5 से 10 प्रतिशत प्रश्न गलत कर ही देता है। जिससे अनेकों विद्यार्थी बॉर्डर लाइन में वंचित हो जाते हैं।
 
               प्रतियोगियों का मानना है आयोग ने प्रश्न छाटने वालों की अकर्मण्यता को छुपाने के लिए माइनस मार्किंग की प्रणाली और  प्रश्नों में पांचवा विकल्प देना शुरू कर दिया । अब आवेदन प्रक्रिया में पोर्टल की तकनीकी खामियों के कारण हजारों विद्यार्थी बिना परीक्षा दिए से वंचित हो रहे हैं। मामला बेहद गंभीर है जिसमें तत्काल सुधार कर जानबूझकर बार-बार इस प्रकार की त्रुटि किए जाने वालों के खिलाफ कार्यवाही की जानी चाहिए।
 
आयोग ने नहीं सुधरने का लिया संकल्प
 
                     मालूम हो प्रतिवर्ष वर्ष की भांति छग  लोकसेवा परीक्षा 2021 के लिए विज्ञापन जारी किया गया है। जानकारी देना लाजमी होगा कि कुछ इसी प्रकार 2020 लोकसेवा परीक्षा में  पोर्टल  खामी के कारण आयु सीमा में छूट की पात्रता रखते हुए भी अनेक प्रतियोगी फॉर्म नहीं भर पाए। आयोग से सपर्क किए जाने पर त्रुटि को आननफानन  सुधारा गया । एक बार फिर 2021 परीक्षा में ऑनलाइन फॉर्म में सॉफ्टवेयर में तकनीकी खामी सामने आयी है। जिसमें शासकीय सेवक, निगम/ मंडल/ पंचायत / शिक्षा कर्मी/ ग्रीन कार्डधारी और राज्य अवार्ड विजेताओं/ अन्य सवर्गो में लोकसेवा परीक्षा नियम के अनुसार दिए गए  छूट का उच्च आयु सीमा में मिली सुविधा अनुसार परीक्षा में शामिल होने का नियम है।संबंध में आवेदन में उल्लेख तो लिए जा रहे हैं लेकिन इस आधार पर आयु सीमा में मिलने वाली छूट चाहते हैं या नहीं का इंटरफेज डिसएबल गायब हो जाने से विगत वर्षों के मिलने वाली छूट की गणना नहीं हो पा रही है। विभिन्न आधारों पर आयु सीमा में छूट के पात्र अभ्यर्थी का आवेदन जमा  नहीं हो पा रहा है। जिससे नियमानुसार आयु सीमा में छूट चाहने वाले हजारों प्रतियोगी परीक्षा फॉर्म नहीं भर पा रहे हैं। पिछले वर्ष भी यही समस्या थी।
 
परेशान करने की साजिश
 
       समस्या की जानकारी के अबाद सीजी वाल ने  लोक सेवा आयोग को अवगत कराया था। इसके बाद तत्काल पोर्टल के सॉफ्टवेयर में सुधार किया गया था। एक बार फिर पोर्टल में खामी की बात सामने आ रही है। मामले को लेकर प्रतियोगियों ने गहरी चिंता व्यक्त की है। प्रतियोगियों ने बताया कि हर बार खामियों को लेकर शिकायत किया जाता है। इससे ना केवल हमारा समय बरबाद होता है। बल्कि आर्थिक नुकसान का भी सामना करना पड़ता है। इसके अलावा भी छात्रों को कई प्रकार की कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। 
 
फिर सामने आयी खामियां
 
               छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग प्रारंभिक परीक्षा 2021 के लिए आनलाइन आवेदन भराए जा रहे है। आयु सीमा में छूट का कॉलम इनेबल नहीं होने से बड़ी खामी सामने आयी है। जिसे तत्काल सुधारा जाना जरूरी है। बताते चलें कि  सीजीपीएससी प्रबंधन ने राज्य लोक सेवा आयोग प्रारंभिक परीक्षा 2021 के लिए 26 नवम्बर को 171 पदों के लिए विज्ञापन  जारी किया है। 1 दिसम्बर से 31 जनवरी तक सीजीपीएससी की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन मंगाए गए है। इसी प्रकार  3 दिसम्बर को जारी सहायक संचालक हैंडलूम, सहायक संचालक रेशम और गृह जल विभाग में विधि अधिकारी के लिए  लिए भी पृथक से परीक्षा का विज्ञापन जारी किया गया है।  ऑनलाइन फॉर्म भरते समय आयु सीमा में छूट के विकल्प का इंटरफेज गायब हो गया है।
 
परीक्षार्थियों में पनप रहा आक्रोश
 
           मालूम हो  आवेदन प्रकिया में आयु सीमा में छूट विकल्प हा / नही में दिया जाता है। लेकिन आयोग के पोर्टल  की खामी से मिलने वाली छूट से हजारों परीक्षार्थी 40 साल की उम्र में ही वंचित हो रहे हैं।  जबकि विभिन्न प्रकार की छूट को मिलाकर 45 वर्ष तक परीक्षा में शामिल होने का प्रावधान है। आयु सीमा में छूट का विकल्प वाला इंटरफेज एक्टिव किए जाने की आवश्यकता है। विकल्प इंटरफेज एक्टिव नही होने से  प्रतियोगियो में आक्रोश और संशय की स्थिति बन रही  है।
 
अभ्यर्थियों की बढ़ गयी चिन्ता
 
          अभ्यर्थियों ने बताया कि यदि आयोग ने त्रुटि सुधार नहीं किया तो समस्या खड़ी हो जाएगी। आयोग के  बार बार नए प्रयोगों से प्रतियोंगियो को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। एक प्रतियोगी ने बताया कि शासकीय सेवक होने के नाते मूलनिवासी की छूट 40 वर्षों से वंचित कर दिया गया है। उसे 38 वर्ष में में ही आयु सीमा से बाहर बताया जा रहा है।
 
हेल्पलाइन में समाधान नही
 
      प्रतियोगियों ने बताया कि आयोग ने हेल्पलाइन के नंबरों में ठेका कंपनी कर्मचारियों को बैठा दिया है। जिन्हें पीएससी के बारे में किसी प्रकार की जानकारी नहीं है। जब हेल्पलाइन पर जानकारी देते हैं तो आपरेटर आयोग से संपर्क करने की सलाह देता हैं। समझ के परे है कि ऐसी हेल्पलाइन  का क्या मायने….जो विद्यार्थियों की फार्म भरने की समस्या को भी दूर ना कर सके।
 
जानबूझकर की जा रही गलती
 
              प्रतियोगियों के अनुसार इसी प्रकार की गलती वन सेवा भर्ती के दौरान सामने आयी थी। आवेदन के 2020 लोकसेवा परीक्षा में  पोर्टल  खामी के कारण आयु सीमा में छूट की पात्रता रखते हुए भी अनेक प्रतियोगी फॉर्म नहीं भर पा रहे थे। आयोग से सपर्क किए जाने पर त्रुटि को आननफानन  सुधारा गया। हाल फिलहाल वन सेवा परीक्षा का आयोजन अक्टूबर 2021 में किया गया। इन्ही खामियों के चलते कई विद्यार्थियों को परीक्षा देने का अवसर नहीं मिला। इन सब बातों से लगता है कि जानबूझकर प्रतियोगियों को छटनी की जा रही है।
 
           लोक सेवा आयोग जैसी संस्था के पोर्टल में आवेदन की प्रक्रिया में एक बार फिर बड़ी खामी के चलते कई प्रतियोगियों को परीक्षा में बैठने का अवसर नहीं मिलेगा। मामले को आयोग को स्वतः संज्ञान में लेकर त्रुटियों में सुधार करना चाहिए। 
 
जल्द दूर करने का आश्वासन
 
               पीएससी सचिव जे के धुव को सीजीपीएससी पोर्टल में आयी खामियों को बताया गया है। उन्होने खामियों को शीघ्र ही  दूर करने का आश्वासन दिया है । पिछले दिनों व्यापम के पोर्टल पर भी आई गड़बड़ी से सहायक संपरिक्षक और संपरिक्षक की परीक्षा के आवेदन प्रक्रिया में विद्यार्थियों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *