जब…हजारों बच्चों से पुलिस कप्तान ने पूछा…शेर ही जंगल का राजा क्यों…? .कहानी सुन बच्चों ने बताया…हमने भी लिया संकल्प

BHASKAR MISHRA
2 Min Read

बिलासपुर—पुलिस ने बर्जेस इंग्लिश सीनियर सेकेंडरी स्कूल में कार्यक्रम आयोजित कर बच्चों के बीच नशा मुक्ति के खिलाफ अभियान चलाया। इस दौरान साइबर सुरक्षा के साथ ही करियर गाइडलाइन के बारे में बताया गया। पुलिस टीम ने प्रतिभावान छात्रों समेत पुराने टीचर्स को सम्मानित भी किया। इस दौरान बर्जेस हिंदी मीडियम के बच्चो ने नशा मुक्ति पर नुक्कड़ नाटक भी पेश किया।

पुलिस कप्तान संतोष कुमार सिंह के मुख्य आतिथ्य में बर्जेस मेमोरियल स्कूल मरैदान में नशे के खिलाफ महत्वपूर्ण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान सभी बच्चों और अभिभावकों समेत शिक्षको के अलावा गणमान्य लोगों को नशे के दुष्परिणाम के बारे में बताया। पुलिस कप्तान ने कहानी के माध्यम से बच्चों को बताया कि किस प्रकार समाज और देश को नशे से नुकसान पहुंच रहा है। उन्होने बताया कि संसार में बहुत सारे जानवर शक्ति शाली जीव जन्तु हैं। लेकिन जंगल का राजा सिर्फ शेर ही होता है। क्योंकि उसके पास आत्मबल होता है। जो कभी भी हार नहीं मानता। इसी तरह हम सबको नशा के सामने झुकना नहीं है। बल्कि उसे खत्म करना है। हमें आत्मबल के साथ नशे के खिलाफ जंग कर हराना है।

 इस दौरान अतिरिक्त पुलिस कप्तान अर्चना झा ने साइबर अपराध और सुरक्षा के बारे में बताया। आईपीएस संदीप कुमार पटेल ने भी बच्चो को भविष्य निर्माण की जानकारी साझा किया। कार्यक्रम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर राजेंद्र जायसवाल, थाना प्रभारी सिविल लाइन प्रदीप आर्य, थाना प्रभारी तारबहार विजय चौधरी, थाना प्रभारी तोरवा श्रीमती कमला पोसाम भी उपस्थित रहे।

पुलिस कप्तान ने प्रतिभावान छात्रों को मेडल और मोमेंटो के साथ सम्मानित किया। सेवानिवृत्त शिक्षकों को भी मोमेंटो देकर पुलिस कप्तान समाज निर्माण में योगदान को लेकर अपनी श्रद्धा पेश किया। बर्जेस हिंदी मीडियम के बच्चो ने नशे के खिलाफ नुक्कड़ पेश कर सभी का दिल जीता।

TAGGED: , , ,
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close