के.आर.को मिली ई.लायब्रेरी ..जोगी लगाएंगे क्लास

IMG_20151207_154117बिलासपुर– कौशलेन्द्र राव विधि महाविद्यालय में आज गणमान्य अतिथियों की उपस्थिति में इनआगरेशन कार्यक्रम गरिमामय माहौल में सम्पन्न हुआ। अतिथियों ने के.आर.के छात्रों को बधाई देते हुए कहा कि कालेज का प्रदेश में अपना एक अलग महत्व है। इसके पहले छात्र संघ ने अतिथियों का पुष्पगुच्छ और फूल माला से स्वागत किया।

            मुख्य अतिथि मरवाही विधाकर अमित जोगी, डॉ.सीवी रमन सिंह विश्विविद्यालय के कुलसचिव शैलन्द्र पाण्डेय,सीजी वाल के संपाधक रूद्र अवस्थी ने माता सरस्वती के तैल चित्र के सामने दीप प्रज्जवलित कर पुष्प अर्पित किया। सीवीआरयू कुल सचिव  ने के.आर.के छात्रों के स्वागत से अभिभूत  ई.लायब्रेरी देने का एलान किया है। कार्यक्रम को मरवाही विधायक अमित जोगी और सीजी वाल संपादक वरिष्ठ पत्रकार रूद्र अवस्थी ने संबोधित किया।

                                 पुराने छात्रों की विदाई और नए छात्रों का स्वागत कार्यक्रम का गवाह आज प्रदेश के नाम नामचीन हस्ती मुख्य अतिथि मरवाही विधायक अमित जोगी, कार्यक्रम के अध्यक्षता कर रहे सीवीआरयू रजिस्ट्रार शैलेन्द्र पाण्डेय, वरिष्ठ पत्रकर रुद्र अवस्थी बने। विशिष्ट अतिथि के रूप में मंच पर उपस्थित मस्तूरी विधायक दिलिप लहरिया ने बी  छात्रों का दिल जीत लिया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीवीआरयू के कुल सचिव शैलेन्द्र पाण्डेय ने कहा कि के.आर.कालेज का प्रदेश में अपना अहम स्थान है। खुशी है कि के.आर.कालेज के छात्रों के बीच अपने आप को पा रहा हूं।  उन्होने छात्रों से कहा कि आप में ही कोई प्रशानिक अधिकारी है। तो कोई भविष्य का जज बैठा हुआ है। मुझे प्रदेश के भविष्य से मिलकर बहुत खुशी हो रही है। उन्होने कहा कि आज ई.क्लास रूम का उद्घाटन करने काअवसर मिला। मेरा फर्ज है कि मैं भी अपने प्रदेश के भविष्य के लिए ई.लायब्रेरी की सुविधा दूं।

                        उन्होने कहा कि छात्रों के प्यार के सामने दुनिया का कोई भी तोहफा मायने नहीं रखता है। फिर भी अपने प्रिय छात्रों को आज इस मंच से ई.लायब्रेरी की सुविधा सीवीआरयू की तरफ से देने का एलान करता हूं। पाण्डेय ने कहा कि के.आर.कालेज आने के बाद मालूम हुआ कि भविष्य का न्यायविद यहां से कैसे तैयार होता है। उन्होने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि सिर्फ टेक्स्ट बुक से ही ज्ञान अर्जित करना पर्याप्त नहीं, छात्रों को अपने आसपास की गतिविधियों पर भी पैनी नजर रखना होगा। समाज में क्या कुछ हो रहा है.पल-पल की जानकारी का होना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि मैं वरिष्ठ पत्रकार रूद्र अवस्थी की बातों से पूरी तरह सहमत हूं कि जिन्दगी में दृष्टिकोण का होना बहुत जरूरी है। इसलिए विधि के छात्रों को अपने आस पास की हर पल की जानकारी का होना देश और समाज के लिए मायने रखता है।

IMG_20151207_161249                   कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीजी वाल संपादक रूद्र अवस्थी ने कहा कि जमाना केवल यह जानता है कि कछुआ और खरगोश की दौड़ में पहली बार कछुआ को जीत हासिल हुई। लेकिन नहीं किसी को नहीं मालूम कि दूसरी बार भी खरगोश को हार मिली थी। जबकि दूसरी बार खरगोश पूरी तरह सजग था। बावजूद वह हार गया। इसका हार का मुख्य कारण के विजन स्प्ष्ट नहीं था। लेकिन कछुआ का दृष्टिकोण स्पष्ट था। उन्होंने कहा सामने उपस्थित भविष्य के विधि वेत्ताओं से यही कहना चाहता हूं कि अपना दृष्टिकोण स्पष्ट रखें। प्रदेश में अकूत संपदा है। बावजूद हम गरीब हैं। सम्पदा जा कहां रही है इस पर अपनी पैनी नजर रखें। तभी पढ़ाई और सोच का प्रदेश को फायदा होगा।

             सभा को विशिष्ट अतिथि गायक और विधायक दिलीप लहरिया ने भी संबोधित किया। उन्होने कहा कि आउटसोर्सिंग मुद्दे पर मरवाही विधायक के दिशा निर्देश पर कांग्रेस काम कर रही है। इसका फायदा एक दिन प्रदेश के युवाओं को मिलेगा। उन्होंने बाबा गुरूघासी दास की वंदना कर उपस्थित छात्र  और अतिथियों का मन मोह लिया।

IMG_20151207_154239              कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अमित जोगी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ठीक ही कहा करते थे कि छ्त्तीसगढ़ की अमीर धरती पर गरीब लोग रहते हैं। इसका मुख्य कारण जागरूकता का अभाव होना है। मुझे  विश्वास है कि के.आर.कालेज के छात्र इस बात को समझेंगे।सरकार आउटसोर्सिंग के बहाने स्थानीय लोगों का रोजगार बाहरी लोगों को बेच रही है। शर्म की बात है। जोगी ने कहा कि निकाय मंत्री यहां होते तो इसका जवाब जरूर मिलता कि आखिर ऐसा क्यों हो  रहा है।

                       उपस्थित छात्रों को संबोधित करते हुए मरवाही विधायक ने कहा कि मै विधानसभा का इकलौता अधिवक्ता विधायक हूं। मेरी जिम्मेदारी बनती है कि के.आर.कालेज में गेस्ट प्राध्यापक बनकर अपने भाई बहनों की सेवा करूं। उन्होंने कहा कि के.आर.कालेज पहुंचने के बाद मालूम हुआ कि यहां टाप 10 में 8 छात्र टापर रहते हैं। एलएलबी के टाप 5 में चार के.आर.कालेज के छात्र होते हैं। बावजूद इसके इस कालेज को सरकार की तरफ से कोई अनुदान नहीं मिला आश्चर्य की बात है।  कैसी विडंबना है कि यहां से हाईकोर्ट के 4 और सेशन कोर्ट में 40 जज और सैकड़ों प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी पैदा हुए लेकिन उस कालेज को  आज तक यूजीसी से कोई अनुदान नहीं मिला। इससे बड़ा अन्याय क्या हो सकता है। जोगी ने कहा कि इस मामले को मैं विधानसभा में उठाउंगा। जब तक अनुदान नहीं मिलेगा। तब तक प्रयास करता रहूंगा।

                           कार्यक्रम में छात्र संघ पदाधिकारियों के अलावा युवा नेता विजय केशरवानी,समीर अहमद बबला,अविनाश सेट्ठी,तवलीन छावड़ा समेत एनएसयूआई के कई नेता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *