कोमा से बाहर आया युवक..हत्या का मामला दर्ज

CIVIL LINE THANAबिलासपुर—सात माह पहले जुलाई 2015 में एक युवक सत्यम चौक के पास घायल अवस्था में लोगो को पडा दिखाई दिया था। तात्कालीन समय सिविल लाइन पुलिस ने घायल युवक को उपचार के लिए सिम्स में दाखिल करवाया । युवक कोमा में जा चुका था। इसके बाद परिजनो ने उसे अपोलो में भर्ती कराया। होश में आने के बाद युवक ने बताया कि दोस्तो ने राजकिशोर नगर में उसके साथ  मारपीट की। बाद में सत्यम चौक के पास छोड़ कर चले गये।

               होश में आने के बाद घायल युवक के पिता की फरियाद पर सिविल लाइन सीएसपी के आदेश पर शिकायत दर्ज की गयी है। बयान के बाद सरकंडा पुलिस ने हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। टीआई सरकंडा सिविल लाइन थाने से शिकायत कॉपी मांगने की बात कह रहे है।

                    राहुल राबिन्सन पिता जयदीप राबिन्सन घायल अवस्था में जुलाई 2015 में लोगो को सत्यम चौक के पास मिला था। तात्कालीन समय उपस्थित  लोगों ने दुर्घटना की आंशका पर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने राहुल को उपचार के लिए सिम्स दाखिल करवाया। राहुल का पिता घटना की जानकारी मिलते ही सिम्स पहुचा। अपने बेटे को उपचार के लिए अपोलो हॉस्पिटल में दाखिल करवाया।

                     सात महीने बाद जब राहुल कोमा से बाहर आया तो उसने अपने पिता को बताया कि उसके साथ राजकिशोर नगर में मारपीट की गयी है। ठीक होने पर राहुल अपने पिता के साथ सिविल लाइन सीएसपी कार्यालय पहुचा। अपना बयान दर्ज करवाया है। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए राहुल के बयान के बाद सैय्याम बुखारी और प्रदीप अग्रवाल पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है।

                          राहुल ने अपने बयान में बताया है कि वह अपने घर से दोस्तो के साथ गाडी खरीदने रायपुर के लिए निकला था।  दोस्तो के साथ मॉल में पार्टी में शामिल हुआ। रात में अपनी दोस्त सिमरन को छोडने उसके घर राजकिशोर नगर गया। राजकिशोर नगर से लौटते समय सैय्यम बुखारी और प्रदीप अग्रवाल ने उसकी गाड़ी रुकवाकर राजकिशोरनगर में मारपीट की।  राड़ से सर पर वार किया। बाद में दोनो ने उसे घायल अवस्था में सत्यम चौक के पास फेंक दिया।

                     इसके बाद क्या हुआ उसे नहीं मालूम । पुलिस के अनुसार लोगों के प्रयास से घायल युवक को संजीवनी से सिम्स भेजा गया। सात महीने गहन उपचार के बाद राहुल कोमा से बाहर आ गया है। बहरहाल युवक के बयान पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है। जांच की जा रही  है। सरकंडा थाना प्रभारी ने सीएसपी कार्यालय से गवाही की कॉपी मांगने की बात कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *