नयी लड़की पसंद आयी..पत्नी और बच्चों को छोड़ दिया..विधायक के पास पहुंची महिला..कहा..जीना मुश्किल

बिलासपुर—- मल्हार निवासी महिला अपने बच्चे के साथ विधायक से न्याय की गुहार लगायी है। महिला ने बताया कि वह पिछले 15 सालों से बिलासपुर के टिकरापारा मन्नू चौक में रहती है। पति विमल कुमार रजक सत्या कम्पनी में ड्रायवर है। दो साल पहले वह एक रेजा के सम्पर्क में आया। अब परिवार छोड़कर चला गया है। जिसके चलते बच्चो का भविष्य  संकट में है।

                    मन्नू चौक टिकरापारा में  रहने वाली एक महिला अपने बच्चे को साथ विधायक कार्यालय पहुंची। विधायक से परिवार को बचाने की गुहार लगाई। महिला ने बताया कि 18 साल पहले विमल रजक मल्हार निवासी से शादी हुई थी। शादी के बाद बिलासपुर रहने लगे। तीन बच्चे हुए। बड़ा बच्चा पीयुष रजक 12 वीं में पढ़ता है। जबकि दो छोटी बेटियां 10 और आठवी में पढ़ती है। बच्चे पढ़ाई लिखाई में ठीक है।

                   महिला ने बताया कि दो साल पहले पति का सिरगिट्टी निवासी 18 साल की एक युवती से परिचय हुआ। इस बात को लेकर हम लोगों में लड़ाई होती थी। पति शराब की नशे में उसके और बच्चों के साथ मारपीट करने लगा। एक महीने पहले पति ने फरमान सुनाया कि अब मल्हार में रहेंगे। बच्चों को भी नहीं पढ़ाएगा। सभी बच्चे खेती किसानी करेंगे।

                                  इसी बीच लाकडाउन लागू हो गया। बड़ा बेटा ने बताया कि 12 वीं की तैयारी के लिए किताब खरीदना है। लेकिन पिता ने खरीदने से इंकार कर दिया। इस बीच आन लाइन क्लास चालू हो गयी। पति ने कहा कि मोबाइल भी नहीं खरीदूंगा। एक दिन पति ने अपने पिता को घर बुलाया। और अपना सामान लेकर मल्हार चला गया। पति ने कहा कि वह खर्चा भी नहीं देगा। 

                  इसके बाद मैने महिला थाना में शिकायत दर्ज की। कई बार काउंसिलिंग के बाद भी पति ने कहा कि सबको घर जाना है। किसी को नहीं पढाएगा लिखाएगा। मामले की शिकायत सिटी कोतवाली में की। लेकिन थानेदार ने कहा कि मामला पारिवारिक है। इसलिए दखल नही देगा।

              महिला ने विधायक से कहा कि अब यहीं से न्या की उम्मीद है।  महिला ने यह भी बताया कि उसका पति  नयी लड़की से शादी करना चाहता है। लगातार दबाव बनाकर अलग होना चाहता है।

               महिला की शिकायत के बाद विधायक ने सिटी कोतवाली को फोन कर कहा कि विमल कुमार रजक के खिलाफ सख्त कदम  उठाएं। समझाने का प्रयास करें कि बच्चों को पढ़ा लिखाकर योग्य बनाए। विधायक ने महिला और उसके बेटे को आश्वासन दिया कि मामले में उचित कदम उठाया जाएगा। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *