नितिन भंसाली का छात्रों को संदेश-“एक हार से कोई फ़क़ीर या एक जीत से कोई सिकन्दर नही होता”

रायपुर।राजधानी के ब्राइटन इंटरनेशनल स्कूल में 2 दिवसीय मॉर्डन यूथ मॉर्डन यूनाइटेड नेशन्स “युवा संसद” का शुभारम्भ हुआ। 2 दिवसीय युवा संसद कॉन्फ्रेंस में लोकसभा कमेटी,राज्यसभा कमेटी ओर प्रेस कमेटी का गठन किया गया है। जिसमे 2 दिनों तक इन कमेटियों में प्रदेश और राजधानी के सेकड़ो छात्र हिस्सा ले रहे है।जिसमे देश,विदेश,चुनाव,महिला आरक्षण एवं प्रदेश के प्रमुख मुद्दों पर खुली चर्चा की जाएगी, दो दिवसीय कॉन्फ्रेंस में विभिन्न कमेटियों में छात्र अलग अलग नेताओं का रोल भी प्ले कर रहे है।कोई नरेंद्र मोदी तो कोई राहुल गांधी के रूप में आयोजन में शामिल हो रहे है.सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करे

मॉर्डन यूथ मॉर्डन यूनाइटेड नेशन्स के उदघाटन समारोह में आज मुख्य अतिथि के रूप में पब्लिक इशू सोशल फाउंडेशन के चैयरमेन नितिन भंसाली उपस्थित हुए, कांफ्रेंस की शुरुआत से पहले छात्र छात्राओं ने गुजरात के सूरत के कोचिंग सेंटर की बिल्डिंग में आग लगने से मृत हुए बच्चो एवं छह वर्ष पूर्व झीरम घाटी के हमले में शहीद हुए कांग्रेस नेताओं और जवानों को दो मिनट का मौन रखते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

2 दिवसीय कॉन्फ्रेंस के शुरुआत के पहले दिन मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित पीआईएसएफ चैयरमेन नितिन भंसाली ने में युवाओं को संबोधित करते हुए अपने 20 वर्षो के राजनीतिक और सामाजिक अनुभवों को युवाओं के बीच शेयर करते हुए युवाओं और छात्रों को स्वच्छ राजनीति में आने का आव्हान किया।

अपने संबोधन में नितिन ने देश मे परीक्षा में फैल होने के डर से छात्रों द्वारा की जा रही आत्महत्याओ के मामलों पर दुख व्यक्त किया, नितिन भंसाली ने भूतकाल में लास्ट बेंच में बैठने वाले स्टूडेंट की सफलता के किस्से भी युवाओं के बीच शेयर किए।नितिन ने छात्रों से कहा कि जीवन मे किसी भी असफलता से आप निराश न हो क्योकि एक हार या असफलता से कोई फ़क़ीर या एक सफलता या जीत से कोई सिकंदर नही हो जाता इसलिए बिना रुके अपने कार्यो को मेहनत और लगन से करते रहे। उन्होंने कहा की प्रसिद्ध होना आसान है पर सिद्ध होना कठिन है.

नितिन भंसाली ने कार्यक्रम के अंत मे इंटरेक्शन सेशन में युवाओं के द्वारा हाल ही में सम्पन्न हुए लोकसभा चुनाव परिणामो, गरीबो को मुफ्त में दी जाने वाले चीज़ों, महिला आरक्षण ओर जेएनयू में कन्हैया कुमार के द्वारा किये गए आंदोलन पर आधारित प्रश्नों का जवाब भी दिया.

मॉर्डन यूथ मॉर्डन यूनाइटेड नेशन्स कांफ्रेंस के पहले दिन के आयोजन को सफल बनाने में के एक्जीक्यूटिव बोर्ड कमेटी के अभिषेक मिश्रा, चिराग बरडिया, भाविनी पंजवानी ओर आँचल अठवानी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *